यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को सैम-मैम बच्चों का चिन्हांकन का दिया गया जोर


🗒 सोमवार, अक्टूबर 04 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को सैम-मैम बच्चों का चिन्हांकन का दिया गया जोर

रायबरेली - जनपद के सलोन विकास खण्ड पर आगनबाड़ी कार्यकत्रियों को कुपोषण सम्बन्धित सैम-मैम बच्चों का चिन्हांकन का प्रशिक्षण देते हुए सीडीपीओं ज्ञानेन्द्र भारती, स्वास्थ्य विभाग के डा0 देवेन्द्र भारती ने कहा कि प्रशासन कुपोषण को दूर करने तथा कुपोषित बच्चों को पोषित बनाने के लिए पूरी तरह से गम्भीर है। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकत्री घर-घर जाकर स्टेडियों मीटर द्वारा बच्चों का मापन कर उनके आयु के अनुसार कुपोषित बच्चों का चिन्हांकन कर उनकों पोषित बनाने में आगे आये। उन्होंने इस दौरान बच्चों की लम्बाई व वजन कैसे करना है किस प्रकार कुपोषित बच्चों को पोषित बनाना है इसकी सम्पूर्ण जानकारी दी। डाॅ0 रोली तरसौलिया, डा0 पुनीता शुक्ला ने भी स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारियां आगनबाड़ी कार्यकत्रियों को दी। उन्होंने कहा कि छोटे बच्चे ही देश में कल के भविष्य है जिनका स्वस्थ रहना जरूरी है।इस मौके पर नागेन्द्र भारती, लालजी देवी, कुसुम सिंह, ज्योति सिंह, शकुन्तला देवी, सीता त्रिपाठी आदि भी उपस्थित रहे।

संवाददाता अमरेन्द्र यादव

रायबरेली से अन्य समाचार व लेख

» चोरों के अंतरजनपदीय गिरोह का किया राजफाश, 31 कारें बरामद

» बैंकर्स शासन की संचालित योजनाओं के लाभार्थियों पर दे विशेष ध्यान: प्रभाष कुमार

» विधायक व डीएम ने प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना के 10 लाभार्थियों को प्रमाण पत्र किये वितरण

» बीमारियों से बचाव के दिए जा रहे टिप्स

» अनुसूचित जातियों के लिए 4 योजनाएं संचालित सम्पर्क कर ले लाभ