यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

चार हिस्ट्रीशीटरों ने थाने पहुंच अपराध से की तौबा


🗒 शुक्रवार, अप्रैल 08 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
चार हिस्ट्रीशीटरों ने थाने पहुंच अपराध से की तौबा

सहारनपुर, । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शपथ लेते ही प्रदेश में अपराधियों में खलबली मची हुई है। सहारनपुर जिले में तो बदमाश खुद थाने पहुंच रहे हैं और सरेंडर कर रहे हैं। किसी के घर पर बुल्डोजर चलाया जा रहा है तो किसी को चेतावनी दी जा रही है। शुक्रवार को भी रामपुर मनिहारान थाने में चार हिस्ट्रीशीटरों ने पहुंचकर सरेंडर किया। इस दौरान सभी अपराधियों ने थाना प्रभारियों को एक शपथ पत्र दिया और कहा कि वह जीवन में कभी अपराध नहीं करेंगे।दरअसल, रामपुर मनिहारान निवासी नदीम पुत्र यासीन, नफीस पुत्र रफीक, नौशाद पुत्र सईद, आजाद पुत्र शफीक एक जमाने में बड़े अपराधी हुआ करते थे। इन पर हत्या, लूट, चोरी जैसे संगीन आरोप थे। कई कई साल आरोपित जेल में भी रहकर आए हैं। इसी कारण इन सभी की रामपुर मनिहारान थाना पुलिस ने हिस्ट्रीशीट खोल दी थी। अभी तक होता था कि पुलिस हिस्ट्रीशीटरों के घर पर निगरानी के लिए जाती थी। निगरानी में देखा जाता था कि हिस्ट्रीशीटर वर्तमान में क्या कर रहा है। किसी अपराध में संलिप्त तो नहीं है, लेकिन जब से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बने हैं। तब से हिस्ट्रीशीटर खुद ही थानों में पहुंच रहे हैं और अपने व्यवसाय और अन्य जानकारी पुलिस को दे रहे हैं। शुक्रवार को भी यह सभी हिस्ट्रीशीटर थाने में पहुंचे और शपथ पत्र थाना प्रभारी को देकर बताया कि अब वह अपराध नहीं कर रहे हैं। आगे भी वह अपराध नहीं करेंगे। थाना प्रभारी रामपुर मनिहारान विशाल श्रीवास्तव ने बताया कि शपथ पत्र लेने के बाद हिस्ट्रीशीटरों ने छोड़ दिया है। बता दें कि सहारनपुर के कई थानों में अपराधी सरेंडर कर चुके हैं। हाल ही में एक महिला अपने चार बेटों के साथ थाने में पहुंची थी और अपराध से तौबा की थी।