यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मस्जिद के अंदर इमाम ने किया पत्नी का कत्ल


🗒 शनिवार, मई 21 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मस्जिद के अंदर इमाम ने किया पत्नी का कत्ल

सहारनपुर,  । एक इमाम ने मस्जिद के अंदर पत्नी की हत्या कर दी और शव को सिपुर्द-ए-खाक भी करा दिया। घटना के नौ दिन बाद इमाम की सास एसएसपी से मिली और दामाद पर बेटी की हत्या का आरोप लगाया। एसएसपी के आदेश पर कुतुबशेर थाना पुलिस ने इमाम समेत कई लोगों पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया। अब पुलिस शव को कब्र से निकलवाकर पोस्टमार्टम कराएगी।कुतुबशेर थाना अंतर्गत 62 फुटा रोड निवासी खुर्शीदा पत्नी स्व. इकराम ने बताया कि 10 साल पहले उसने बेटी हिना का निकाह उस्मान पुत्र हुसैन निवासी बंदरजूड़ मुजाहिदपुर सतीवाला जिला हरिद्वार (उत्तराखंड) के साथ किया था। उस्मान सहारनपुर की 62 फुटा मस्जिद में इमाम है और हिना को भी साथ रखता था। खुर्शीदा ने दर्ज कराए मुकदमे में बताया कि 12 मई को उस्मान ने फोन कर उसे बताया कि बेटी हिना को सात मुंह वाली काली ने मार दिया है, जब वह स्वजन के साथ मौके पर पहुंची तो देखा हिना को धारदार हथियार से काट रखा था। गले, नाक व कान पर भी चोट के निशान थे। उस्मान बार-बार यहीं बोल रहा था कि उसे सात मुंह वाली काली ने मारा है। खुर्शीदा ने बताया कि उस समय कुछ लोगों ने मस्जिद की बदनामी की बात कहकर चुप करा दिया था, इसलिए कानूनी कार्रवाई नहीं की और हिना के शव को सिपुर्द-ए-खाक करा दिया था। बाद में खुर्शीदा को पता चला कि मस्जिद में मुखिया, फैजान और दो अज्ञात व्यक्ति भी रहते हैं। खुर्शीदा का आरोप है कि इन सभी ने मिलकर बेटी हिना की हत्या की है। कुतुबशेर थाना प्रभारी पीयूष दीक्षित ने बताया कि एसएसपी के आदेश पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है।खुर्शीदा के मुताबिक उस्मान तांत्रिक क्रिया भी करता है। हिना के शव के पास सिंदूर, किसी जानवर की खोपड़ी, हंडी व मांस के टुकड़े आदि सामान भी पड़ा हुआ था। एक बार उन्हें भी लगा कि शायद हिना को काली ने मार दिया होगा, लेकिन बाद में पता चला कि उसकी हत्या हुई है।महिला की हत्या में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। शव को कब्र से निकालकर पोस्टमार्टम कराया जाएगा। कुछ दिन पूर्व ही शव दफनाया गया है, इसलिए पोस्टमार्टम रिपार्ट में मौत का कारण स्पष्ट हो जाएगा। इसके बाद आरोपितों की गिरफ्तारी की जाएगी। राजेश कुमार, एसपी सिटी।