देवबंद में बन रहे थे नकली नोट, लाखों की नकली करेंसी बरामद

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

देवबंद में बन रहे थे नकली नोट, लाखों की नकली करेंसी बरामद


🗒 शुक्रवार, जून 18 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
देवबंद में बन रहे थे नकली नोट, लाखों की नकली करेंसी बरामद

सहारनपुर,। मंडी कोतवाली पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। नकली नोटों को बाजार में चलाने वाले गिरोह के चार लोगों को पकड़ा है। इनके कब्जे से 3.86 लाख रुपये की नकली करेंसी मिली है। सभी नोट 500 रुपये के हैं। आरोपितों ने बताया कि देवबंद में यह नकली नोट बनते हैं। देवबंद से वह 50 फीसद के कमिशन पर लेकर आते हैं। जिसके बाद सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, शामली, मेरठ, उत्तराखंड के हरिद्वार, रुड़की, देहरादून के बाजारों में चलाते थे। चारों आरोपितों से खुफिया विभाग की कई एजेंसियों ने भी पूछताछ की है। विदेशी कनेक्शन भी देखा जा रहा है।एसएसपी डा. एस चन्नपा ने बताया कि शुक्रवार की दोपहर में मंडी कोतवाली प्रभारी अवनीश गौतम अपनी टीम के साथ मोहल्ला सराय मर्दान अली में चेकिंग कर रहे थे। उसी समय चार युवक पैदल ही आते दिखाई दिए। शक होने पर जब चारों युवकों से पूछताछ की गई तो वह पुलिस के सवालों में उलझ गए। जिसके बाद उनकी तलाशी ली गई। उनके पास से 3.86 लाख रुपये मिले। रुपये के बारे में सही विवरण नहीं दे सके। पुलिस ने थाने पर लाने के बाद रुपये चेक किए तो वह नकली मिले। पूछताछ में आरोपितों ने अपने नाम मोहम्मद इनामुर्रहमान पुत्र हफीजुर्रहमान सराय मर्दान अली थाना मंडी, नौशाद पुत्र आकिल निवासी खुर्शीदनगर खाताखेड़ी, वाजिद पुत्र माेउनुद्दीन निवासी मोहल्ल मुतरीबान, अब्दुला पुत्र अब्दुल मलिक निवासी मोहल्ल खटीकों का कुआं बताए। नकली करेंसी की खबर जैसे ही एलआइयू, आइबी को लगी तो उनकी टीम भी थाने पर पहुंच गई और चारों आरोपितों से विदेशी कनेक्शन के बारे में पूछताछ की। आरोपितों को शनिवार को अदालत में पेश किया जाएगा।चारों आरोपितों ने पूछताछ में बताया कि देवबंद के गांव थेतकी निवासी उस्मान और नागल थानाक्षेत्र के मोहल्ल तास्सीपुर निवासी तौसिफ पुत्र अफजाल से वह करेंसी लेकर आते हैं। यह दोनों देवबंद, नानौता समेत अलग अलग स्थानों पर मशीन से करेंसी को छापते हैं।