यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

एक ऐसा परिवार जो रहस्मय आत्मा की शाया में दहसत भरी जिंदगी जीने पर मजबूर


🗒 गुरुवार, मार्च 03 2016
🖋 Shashiven, Joint Editor ALL INDIA

''कहने सुनने में ये वाक्या कुछ अजीब सा जरूर लगेगा और आसानी से कोई विश्वाश भी नहीं करेगा क्योकि इक्कीसवी सदी में जी रहा इंसान आसानी से कभी प्रेतात्मा पर विश्वाश नहीं कर सकता क्योकि आज विज्ञान के युग में भूत प्रेत की काल्पनिक बातें महज कहानियो और फिल्मो तक ही सीमित है लेकिन यह सब कुछ सत्य और आँखों देखी है ! बात संत कबीर नगर जिले में बखिरा थाना क्षेत्र के भगवानपुर गाँव की जहाँ के रहने वाले शम्भु गिरी और उनका परिवार एक ऐसी रहस्मय आत्मा की शाया में दहसत भरी जिंदगी जीने पर मजबूर है !

एक ऐसा परिवार जो रहस्मय आत्मा की शाया में दहसत भरी जिंदगी जीने पर मजबूर

ये कहानी किसी हॉरर फ़िल्म की कहानी नही बल्कि हकीकत है जिसने उड़ा डाली है एक परिवार की नींद !! जिले के भगवानपुर गाँव निवासी शम्भु गिरी के घर बीते इकत्तीस जनवरी से जो कुछ हो रहा है उससे एक अजीब सा डर अजीब सा खौफ परिवार वालो के चेहरों को देख आसानी से लगाया जा सकता है !पहले रातो में घर के छत से आँगन में ईंटे पत्थर गिरता था लेकिन अब दिन में आँगन से ही ईट पत्थर घर के अंदर गिरने लगे है , घर के अंदर रखे सामान अचानक गायब होकर छत पर चले जा रहे है, हद तो अब हो गई ही जब घर के बाहर रखे अनाज की बोरियो सहित कपड़ो और धार्मिक ग्रंथो में अचानक ही आग लग जा रही है ! घर में हो रही इन भयावह घटनावो के तह में पहुचने और घर के मुखिया शम्भु गिरी के बयानों ने प्रेतात्मा होने जैसी बातो को सच साबित किया ही, परिवार के मुखिया शम्भु गिरी की माने तो वर्ष उन्नीस सौ चौरानवे में उनकी बहु माधुरी ने खुद के उपर मिटटी का तेल छिड़कर अपनी जान दे दी थी जिसकी आत्मा इतने सालो बाद आज उनके पूरे परिवार को परेशान कर रखी है क्योकि जिस जगह अचानक आग लग रही है उस जगह आग की उठने वाली लपटों के साथ मिटटी के तेल की खुसबू आती है !
हालत तब और डरावनी सी हो जाती है जब गाँव का कोई भी व्यक्ति पीड़ित परिवार की मदद करता है, मदद करने वाले के व्यक्ति के घर भी अनहोनी घटनाये होने से अब कोई भी उन मदद करने को तैयार नहीं जिसके चलते आज ये पूरा परिवार अपने मकान की छत से निकल खुले आसमान के नीचे अपना गुजर बसर कर रहा है , घर के अंदर पड़ा सारा सामान, बिस्तर और खाने की चीजे सभी बाहर आ गई है ! परिवार पर आई इस संकट और आत्मा से छुटकारा पाने के लिए पीड़ित मुखिया शम्भु गिरी ने तांत्रिको का भी सहारा लिया लेकिन इसका भी उन्हें कुछ ख़ास लाभ नहीं मिला तो इसकी सुचना उन्होंने 100 नंबर पर भी किया जिस पर पुलिस आई और जांच कर चली गई फिलहाल इस पूरे मामले पर अधिकारी कुछ बोलने को तैयार नहीं|

संत कबीर नगर से अन्य समाचार व लेख

» BJP के पूर्व सांसद को कार्यक्रम में जाने से रोका- दो पक्षों में मारपीट, 'जूताकांड' से आए थे चर्चा में

» संतकबीर नगर जिले मे सरकारी कर्मचारियों ने 75 साल की एक जिंदा महिला को सरकारी अभिलेखों में मृत बता दिया

» संतकबीर नगर में छह वर्षीय बच्ची के दुष्‍कर्म

» मां को पिता से पिटता देख पुलिस के पास पहुंचा मासूम

» जिला संतकबीर नगर में ट्रक ने मोटरसाइकिल सवार को रौंदा, दो सगे भाइयों की मौत

 

नवीन समाचार व लेख

» किदवई नगर स्थित स्कूल से छुट्टी के बाद अचानक बच्चों के गायब होने से अफरा तफरी मच गई

» PGI अंसल में मिट्टी खनन विवाद में मारी गई थी बिल्डर को गोली दो शूटर और रेकी कराने वाला गिरफ्तार मुख्य साजिशकर्ता समेत दो फरार

» मायावती का मुस्लिम कार्ड, मुनकाद अली बने बसपा के प्रदेश अध्यक्ष

» पुलिस ने जंगली हिरण का शव ले जा रहे शिकारी को दबोचा

» पंचतत्व में विलीन हुईं सुषमा स्वराज, आंखें हुई नम