यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आयकर अधिकारी बनकर सर्राफ को चूना लगाने वाले छह ठग गिरफ्तार


🗒 बुधवार, फरवरी 22 2017
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

संतकबीरनगर (UFH NEWS)। अक्षय कुमार की फिल्म स्पेशल 26 की तर्ज पर आज सराफा की दुकान में आयकर अधिकारी बनकर छापा डालने पहुंचे छह ठगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसमें से एक के पास से एक पिस्टल भी बरामद हुई है। एक ठग फरार होने में सफल रहा।

आयकर अधिकारी बनकर सर्राफ को चूना लगाने वाले छह ठग गिरफ्तार

खलीलाबाद कोतवाली क्षेत्र के गोला बाजार स्थित स्व. सीताराम सर्राफ की दुकान के सामने सुबह नीली बत्ती लगी एक कार आकर खड़ी हुई। इसमें सवार छह लोग दौड़ते हुए दुकान में घुस गए। उनमें से पुलिस की वर्दी पहने एक कथित दारोगा ने सीसी कैमरे का एनवीआर निकाल लिया। दुकान का नौकर सूरज का मोबाइल लेकर उसका सिम निकालने के बाद उसे अपनी जेब में रख लिया। एक ने अपना परिचय इनकम टैक्स कमिश्नर के रूप में देते हुए अपना कार्ड दिखाया और दुकान तथा घर में रखे सारे जेवरात का रिकार्ड मांगा। दुकान मालिक के पुत्र निकित वर्मा ने अपने बड़े भाई के आने पर रिकार्ड दिए जाने की बात कही। इस पर सभी ने दुकान में रखे सभी जेवरात निकालकर उसे तौलने के बाद झोले में भरना शुरू कर दिया। टीम में शामिल महिला घर में ऊपर चली गई और महिलाओं से जेवर निकलवाने लगी। लगभग बीस मिनट तक सभी ने दुकान के शटर को बंद करके घर में नकदी और जेवर खंगाला।

इसके बाद डिब्बे सहित तौलकर उसकी रिसीविंग देने लगे तो व्यापारी परिवार को शक हुआ। यह शक सादे कागज पर रिसीविंग दिए जाने को लेकर और पुख्ता हो गया। उसके बाद परिवार के लोगों ने मोबाइल के माध्यम से अन्य व्यापारियों के साथ पुलिस को सूचना दे दी। कुछ लोगों को आते देखकर सभी दुकान से बाहर निकलकर गाड़ी में बैठने का प्रयास करने लगे। इस दौरान लोगों ने उन्हें रोककर असली पदनाम बताने को कहा तो पहले एक ने फर्राटेदार अंग्रेजी बोलते हुए लोगों को दबाव में लेने का प्रयास किया। कहा कि लखनऊ आकर डिटेल ले लेना, परंतु भीड़ जब उग्र होने लगी तो उसमें से एक भागने लगा। भीड़ ने उसे पकड़कर दुकान में बंद कर दिया और लोग उसे पीटने लगे। इस बीच भारी पुलिस फोर्स के साथ डीएम और एसपी पहुंच गए। व्यापारियों के कब्जे से किसी तरह सभी ठगों को बाहर निकाला और थाने पर ले आए। 

पकड़े गए आरोपियों में देवरिया के रुद्रपुर थाना क्षेत्र के महेशपुर रामलक्षन गांव निवासी रमेश प्रजापति, देवरिया सदर कोतवाली क्षेत्र के नौतन गांव निवासी ब्रजेश शाही, गौरी बाजार थाना क्षेत्र के गौरी बुजुर्ग गांव निवासी रंजू चौहान, इसी जिले के धतुरा खास गांव निवासी संदीप यादव, लखनऊ के आलमबाग थाना क्षेत्र के मवैया निवासी कौशल सिंह, उत्तराखंड के टर्मिनल रोड देहरादून निवासी नईस राहत शामिल हैं।

 

संत कबीर नगर से अन्य समाचार व लेख

» जिला संतकबीरनगर में ट्रैक्टर-ट्राली की ट्रक से टक्कर में दो की मौत, आठ घायल

» BJP के पूर्व सांसद को कार्यक्रम में जाने से रोका- दो पक्षों में मारपीट, 'जूताकांड' से आए थे चर्चा में

» संतकबीर नगर जिले मे सरकारी कर्मचारियों ने 75 साल की एक जिंदा महिला को सरकारी अभिलेखों में मृत बता दिया

» संतकबीर नगर में छह वर्षीय बच्ची के दुष्‍कर्म

» मां को पिता से पिटता देख पुलिस के पास पहुंचा मासूम

 

नवीन समाचार व लेख

» अलीगढ मे पुलिस के सामने एडीए टीम पर पथराव, अवर अभियंता घायल

» अलीगढ मे छह माह की मासूम बच्ची की नाना ने अगवा कर की हत्या, कूड़े के ढेर पर फेंका शव

» अयोध्या मे चलती ट्रेन से मां की गोद से बच्‍चा छीनकर फेंका

» अंबेडकरनगर में You Tube पर वीडियो देख दोस्‍तों ने बनाई थी ATM लूट की योजना

» लखनऊ मे महर्षि वाल्मिकी की प्रतिमा हुई खंडित, लोगों ने किया बवाल