यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

सीढ़ी गैंग के सात बदमाश गिरफ्तार


🗒 शनिवार, जुलाई 23 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
सीढ़ी गैंग के सात बदमाश गिरफ्तार

शाहजहांपुर, । नकबजनी व लूट की घटनाओं को अंजाम देने वाले सीढ़ी गैंग का एसओजी व कांट पुलिस ने राजफाश कर दिया है। गिरोह के सरगना समेत सात बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। जो शाहजहांपुर के अलावा बदायूं, हरदोई, लखीमपुर, लखनऊ जिले के रहने वाले हैं। पुलिस ने चोरी किये गए मुगलकालीन सिक्‍के और विदेशी सिक्के भी बरामद किये हैं।सदर थाना क्षेत्र के प्रोफेसर कालोनी निवासी जीएफ कालेज के सेवानिवृत्त प्रोफेसर अब्दुल मोमिन के आवास में सात जुलाई को चोरी हुई थी। तब वह उपचार कराने के लिए दिल्ली गए थे। चोर पुरानी चांदी के 56, तांबे के 21 व विभिन्न देशों के करीब 300 से अधिक सिक्के समेट ले गए। एसपी ने एस घटना का राजफाश करने के लिए एसओजी प्रभारी रोहित कुमार को भी लगाया था। शुक्रवार देर रात एसओजी व कांट पुलिस ने कांट क्षेत्र के रावतपुर गांव के पास गल्ला गोदाम की खंडहर बिल्डिंग से सीढ़ी गैंग के सात बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया।पूछताछ करने पर अपना नाम बदायूं जिले के इस्लामनगर थाना क्षेत्र के रफातपुर गांव निवासी महानंदन उर्फ पंडित, शाहजहांपुर के निगोही थाना क्षेत्र के परसना खलीलपुर गांव निवासी दानवीर, सदर थाना क्षेत्र के महमंद जलालनगर मुहल्ला निवासी धर्मवीर उर्फ कल्लू, हरदोई जिले के कोतवाली थाना क्षेत्र के धीयर मौलिया गांव निवासी धर्मेंद्र उर्फ रजनीश, गिरोह का सरगना लखीमपुर खीरी जिले के पसगवां थाना क्षेत्र के रहीमापुर मजरा मोहिद्दनपुर निवासी राजेश उर्फ मंगूलाल, हरदोई जिले के बेहटा गोकुल क्षेत्र के मबेईया गांव निवासी प्रवीण दीक्षित व लखनऊ के मड़‍ियावां  थाना क्षेत्र के फैजुल्लागंज के सीताराम मंदिर मुहल्ला निवासी आनंद गौतम बताया।पुलिस ने इनकी निशानदेही पर मुगलकालीन 24 चांदी के सिक्के, 18 तांबे के सिक्के, कनाडा, आस्ट्रेलिया समेत कई देशों के 71 सिक्के, तीन तमंचा, कारतूस आदि बरामद किया। चोरी किये गए सिक्के सेवानिवृत्त प्रोफेसर अब्दुल मोमिन के हैं। एसपी एस आनंद ने बताया कि यह गिरोह जिस मकान में नकब लगाता है वहां सीढ़ी लगाकर छत पर चढ़ता है। इस लिए गिरोह का नाम सीढ़ी गैंग रख लिया गया। यह गिरोह इससे पहले भी तमाम घटनाओं को अंजाम दे चुका है।