यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

सिद्धार्थनगर के सीएमओ, थानाध्यक्ष सहित पांच निलंबित, डीएम को फटकार


🗒 सोमवार, अप्रैल 02 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
सिद्धार्थनगर के सीएमओ, थानाध्यक्ष सहित पांच निलंबित, डीएम को फटकार

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को मुख्य चिकित्साधिकारी डा. वेद प्रकाश शर्मा व इटवा के थानाध्यक्ष सहित कुल पांच लोगों को निलंबित करने का निर्देश दिया। जबकि, जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू को कड़ी फटकार लगाई।

स्कूल चलो अभियान और सघन टीकाकरण के 15 दिवसीय अभियान का शुभारंभ करने के पूर्व उन्होंने अस्पताल में सीटी स्कैन मशीन का लोकार्पण किया। मंच पर पहुंचे तो 50 करोड़ की 31 परियोजनाओं का शिलान्यास करते हुए कहा कि हमारा उद्देश्य सबका साथ सबका विकास करना है। मिट्टी खनन, राशन कार्ड की दुश्वारियों को दूर करने की अफसरों को चेतावनी देते कहा कि शिकायत मिली तो छोड़ेंगे नहीं।

कार्यक्रम की शुरुआत संयुक्त जिला चिकित्सालय में 2.12 करोड़ की सीटी स्कैन मशीन के लोकार्पण करने के साथ हुई। स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह समेत अन्य मंत्रियों की मौजूदगी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दस्तक अभियान के वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। फिर बीएसए कार्यालय परिसर में बेसिक शिक्षा मंत्री अनुपमा जासवाल की उपस्थिति में स्कूल चलो अभियान रैली का औपचारिक शुभारंभ किया। सीएम ने 31 परियोजनाओं का शिलान्यास करने के दौरान कहा कि मिट्टी खनन नीति का अक्षरश: अनुपालन कराना जिला प्रशासन का काम है।

खनन पट्टों में शीघ्रता करने का निर्देश देते हुए कहा कि राशन कार्डों के सत्यापन में भी यदि खामी पाई गई तो कार्रवाई होगी। नौगढ़ नगर पालिका क्षेत्र के शेखनगर वार्ड में रिवाल्विंग फंड की एडवाइज वितरित करने के बाद ओडीएफ घोषित गांव भिटिया का रूख किया। यहां के परिषदीय स्कूल के बच्चों से मिले। टीकाकरण के लिए किए गए प्रबंध पर कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए सीएमओ को निलंबित करने का फरमान सुना दिया। साथ ही इस लापरवाही के लिए डीएम को भी जिम्मेदार मानते हुए डांट लगाई।

दरअसल, जिला संयुक्त चिकित्सालय में टीकाकरण के दस्तक अभियान के तहत वाहनों को हरी झंडी दिखाने के बाद सीएम को इसका औपचारिक शुभारंभ करना था। औपचारिक शुभारंभ के लिए स्थानीय प्रशासन ने भिटिया गांव में व्यवस्था कर रखी थी। गांव पहुंचने के बाद सीएम को पता चला कि कार्यक्रम पूर्व प्रधान के घर पर रखा गया है। इस पर सीएम नाराज हुए और सीएमओ को निलंबित करने का आदेश दिया। साथ ही उन्होंने डीएम को इसके लिए फटकारा भी। सीएम यहां से टीकाकरण का औपचारिक शुभारंभ किए बिना ही वापस चले आए।

इसके अलावा सीएम ने पुलिस द्वारा विवाद के एक मामले को न निपटाए जाने पर जब मंच से ही नाराजगी जताई। तो एसपी ने आनन-फानन में कार्य में लापरवाही बरतने पर इटवा के प्रभारी निरीक्षक अनिल कुमार पांडेय, दारोगा राजेन्द्र प्रसाद यादव, मुख्य आरक्षी प्रदीप मिश्रा व आरक्षी रामेश्वर पांडेय को निलंबित करने का आदेश दे दिया। 

सिद्धार्थनगर से अन्य समाचार व लेख

» सिद्धार्थनगर में बड़ा सड़क हादसा, अनियंत्रित कार पलटी- एक ही परिवार के पांच समेत छह की मौत

» डरें नहीं, नियंत्रण में है कोरोना : सीएम योगी आदित्‍यनाथ

» सिद्धार्थनगर में शादी अनुदान योजना में अपात्रों के चयन पर आठ बीडीओ नोटिस जारी

» सिद्धार्थनगर में दारोगा ने बेटी के सामने पिता को पीटा- मुंह पर रखा जूता, SP ने किया सस्‍पेंड

» सिद्धार्थनगर में विधायक के भाई से पंगा लेने वाले श्री सिहेश्वरी देवी मन्दिर के महंत त्रिवेणी दास वेदान्ती की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत