यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

सिद्धार्थनगर में विधायक के भाई से पंगा लेने वाले श्री सिहेश्वरी देवी मन्दिर के महंत त्रिवेणी दास वेदान्ती की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत


🗒 गुरुवार, जुलाई 11 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
सिद्धार्थनगर में विधायक के भाई से पंगा लेने वाले श्री सिहेश्वरी देवी मन्दिर के महंत त्रिवेणी दास वेदान्ती की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

श्री सिहेश्वरी देवी मन्दिर के महंत त्रिवेणी दास वेदान्ती की संदिग्ध परिस्थितियों में गुरुवार सुबह साढ़े पांच बजे जिला अस्पताल में मौत हो गई है। मंदिर के महंत पद को लेकर काफी दिनों से विवाद चल रहा था। मृत्यु की सूचना मिलने के बाद श्रद्धालु जिला अस्पताल में जुटने लगे है। मौके पर एएसपी मायाराम वर्मा, एसडीएम देवेश कुमार गुप्ता, सीओ सदर सुनील कुमार सिंह, शोहरतगढ़ दिलीप कुमार सिंह, एसओ सदर दिनेश चंद्र चौधरी के साथ पुलिस फोर्स तैनात है।मंदिर के महंत की कुर्सी को लेकर करीब दो माह से विवाद चल रहा है। 60 बीघे की जमीन को लेकर खूब सियासत चल रही थी। 18 जून को हुई पंचायत के बाद दूसरे गुट के शिव प्रसाद त्यागी ने स्वयं को महंत घोषित कर दिया था। शिव प्रसाद त्‍यागी सदर से भाजपा विधायक श्याम धनी राही के भाई हैं। इसकी प्रतिक्रिया में महंत त्रिवेणी दास वेदांती की ओर से लोग सड़क पर उतर गए थे और शिव प्रसाद त्यागी को मंदिर परिसर से बाहर निकाल दिया था। प्रशासन ने इस मामले की मध्यस्थता की और 22 जून को तत्कालीन एसडीएम उमेश चंद्र निगम व सीओ सदर सुनील कुमार सिंह ने कागजातों को देखने के बाद न्यायालय में लंबित प्रकरण का फैसला आने तक यथास्थिति बनाए रखने का निर्देश दिया था।

जिला चिकित्सालय के बीएसटी में suspected snake bite दर्ज है। देर रात चिकित्सक डॉ. सीवी चौधरी ने सांप काटने की दवा शुरू किया गया था।एएसपी मायाराम वर्मा ने बताया कि तीन सदस्यीय डॉक्टरों की टीम पोस्टमार्टम करेगी। पूरे समय की वीडियोग्राफी कराई जाएगी।महंत त्रिवेणी दास वेदांती मूल रूप से थाना खेसरहा के ग्राम मंझरिया के मूल निवासी थे। निधन की सूचना मिलने के बाद छोटे भाई की पत्नी सुभावती, बहन उर्मिला, बहू संगीता, भतीजी कुसुम, रामरती आदि जिला अस्पताल पहुंच गए। उन्होंने सुनियोजित हत्या करने का संदेह व्यक्त करते हुए पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कराने की मांग किया है।इस मामले में विधायक श्याम धनी राही ने कहा कि उनके भाई से उनका कोई मतलब नहीं है। इस विवाद से उनका कोई नाता नहीं है। महत की मौत से वह खुद भी दुखी हैं।त्रिवेणी दास के निधन पर जिलाधिकारी दीपक मीणा ने कहा कि जो भी हुआ बहुत दुखद है। मंदिर का विवाद हल नहीं हुआ तो प्रशासन मंदिर व मंदिर की भूमि को कब्जे में लेते हुए रिसीवर नियुक्त कर देगा।

सिद्धार्थनगर से अन्य समाचार व लेख

» सिद्धार्थनगर में रहस्‍यमय विस्‍फोट, एक की मौत- एक गंभीर

» सिद्धार्थनगर में बड़ा सड़क हादसा, अनियंत्रित कार पलटी- एक ही परिवार के पांच समेत छह की मौत

» डरें नहीं, नियंत्रण में है कोरोना : सीएम योगी आदित्‍यनाथ

» सिद्धार्थनगर में शादी अनुदान योजना में अपात्रों के चयन पर आठ बीडीओ नोटिस जारी

» सिद्धार्थनगर में दारोगा ने बेटी के सामने पिता को पीटा- मुंह पर रखा जूता, SP ने किया सस्‍पेंड