यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कांवड़‍ियों पर लाठी की वर्षा, पुल‍िस ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा


🗒 सोमवार, जुलाई 25 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कांवड़‍ियों पर लाठी की वर्षा, पुल‍िस ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

सीतापुर, । जहां एक ओर कांवड़ियों पर पुष्प वर्षा हो रही है वहीं सीतापुर के श्यामनाथ मंदिर के पास पुलिस ने कांवड़ियोंं पर डंडे चला दिए। कांवड़ियों की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए धक्का देने के साथ दौड़ाया भी गया। भगदड़ में कई कांवड़ियों को चोट भी लगी है। सोमवार की सुबह करीब तीन बजे की घटना का वीडियो भी वायरल हुआ है। दर्शन के लिए मंदिर पर खड़े कांवड़ियों और श्रद्धालुओं के प्रति पुलिस के इस तरह के व्यवहार की हर ओर आलोचना हो रही है। साथ ही पुलिस की संवेदशीलता पर भी सवाल उठ रहे हैं।वायरल वीडियो में पुलिसकर्मी श्रद्धालुओं पर लाठी चलाते देखे जा रहे हैं। बचने के लिए इधर-उधर दौड़ रहे कांवडियों को भी पीटा गया। कांवड़ियों को लाइन से खींचकर मारा गया।कांवड़ यात्रियों को बेहतर सुविधाएं मुहैया कराने का दावा फेल साबित हुआ है। मार्ग की दिक्कतों काे पार कर मंदिर पहुंचे कांवड़ियों को पुलिस की लाठी और धक्के खाने पड़े। दर्शन के बजाय खुद बचाने के लिए भागना पड़ा। पुलिस अगर भीड़ नियंत्रित करने का इंतजाम पहले से कर लेती तो शायद यह नौबत ही नहीं आती।निर्देश था कि कांवड़ यात्रा में शामिल श्रद्धालुओं की सुविधा का पूरा ख्याल रखा जाए। नदी, घाट और मंदिर के पास विशेष इंतजाम किए जाएं। कांवड़ियों पर पुष्प वर्षा भी हो। सीतापुर में ठीक उल्टा किया गया। पुलिस ने भीड़ नियंत्रित करने में लाठी का सहारा लिया।विश्व हिंदू परिषद के विभाग अध्यक्ष विपुल सिंह ने बताया कि प्रकरण संज्ञान में आया है। दोषी पुलिसकर्मियों को निलंबित करने की पुलिस अधीक्षक से मांग जाएगी। कार्रवाई नहीं किए जाने पर संगठन आगे की रणनीति तय करेगा।