यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

हसीना की मीठी बातों ने ली किशोर की जान, आपत्‍त‍िजनक वीडियो द‍िखकर मांगे थे रुपये


🗒 शुक्रवार, जुलाई 29 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
हसीना की मीठी बातों ने ली किशोर की जान, आपत्‍त‍िजनक वीडियो द‍िखकर मांगे थे रुपये

सीतापुर, । हनी ट्रैप में फंसे किशोर ने बदनामी के डर से जहरीला पदार्थ खाकर जान दे दी। साइबर जालसाज क‍िशोर की आपत्‍त‍िजनक फोटो लेकर उसे फंसाया और स्‍वजनों से पैसों की ड‍िमांड कर रहे थे। लोकलाज के भय से क‍िशोर ने आत्‍महत्‍या कर ली। चाचा ने आरोपित का नंबर पुलिस को देते हुए तहरीर दी है।मामला मानपुर के इटदहा का है। जिला अस्पताल आए इटदहा के कुलदीप पुत्र हरिशंकर चौरसिया ने बताया कि उनका भतीजा पीयूष बिसवां के एसजेडी कालेज में पढ़ता है। गुरुवार को वह कालेज गया था। इसी बीच मेरे नंबर पर एक काल आई और कहा कि लड़के का एक वीडियो है। उसमें एक लड़की भी है।फोन करने वाले ने 3.50 लाख रुपयों की मांग की। रुपये न देने पर फोटो व वीडियो वायरल करने की धमकी दी। कुलदीप ने बताया कि अनजान फोन के बाद उन्होंने भतीजे को फोन कर घर को आने को कहा। बदनामी के डर से पीयूष ने जहर खा लिया। जिला अस्पताल में उसकी मौत हो गई।कुलदीप ने बताया कि रुपयों की मांग के लिए गुरुवार को सुबह से कई बार फोन आया। रुपयों की मांग की जा रही थी। घबराए पीयूष ने शाम के समय जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया।साइबर ठगों ने फेसबुक के जरिए किशोर को फंसाया। मैसेंजर पर काल कर वीडियो बना लिया और फिर रुपये मांगे। चाचा ने एक स्क्रीनशाट भी दिखाया। इसमें किशोर और एक लड़की नजर आती है। साइबर ठग ने इसी फोटो और वीडियो को वायरल करने की धमकी दी थी।साइबर सेल प्रभारी अजय रावत ने बताया कि मामला संज्ञान में आया है। नंबर की जांच की जा रही है। पीड़ित को दूसरे प्रांत से काल आया था। इस तरह के काल उड़ीसा और झारखंड से अधिक आते हैं।फोटो व वीडियो वाला मामला है। किशोर ने गुरुवार की शाम जहरीला पदार्थ खा लिया था। परिवारजन की ओर से तहरीर मिलने पर केस दर्ज किया जाएगा।  - अरविंद कटियार, थानाध्यक्ष मानपुर