यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

सीएम योगी ने सीतापुर को दी 485 करोड़ की योजनाओं की सौगात


🗒 बुधवार, सितंबर 29 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
सीएम योगी ने सीतापुर को दी 485 करोड़ की योजनाओं की सौगात

सीतापुर, । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार लगभग दोपहर एक बजे सिधौली पहुंचें। यहां पर उन्‍होंने श्री गांधी महाविद्यालय मैदान पर जिले को करीब 485 करोड़ रुपये की योजनाओं का शिलान्‍यास व लोकार्पण किया। सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि देश में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत सर्वाधिक रसोई गैस के फ्री कनेक्शन के वितरण में सीतापुर का नाम अग्रणी है। विगत साढ़े चार वर्षों में जनपद सीतापुर में प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण व शहरी के तहत सवा दो लाख परिवारों को एक-एक आवास उपलब्ध कराया गया है। आज रामलीला के आयोजन पर कोई प्रतिबंध नहीं है। कांवड़ यात्रा को सम्मान मिल रहा है। आज लोधेश्वर महादेव के दर्शन करने व डीजे के साथ भजन गाते हुए जा रहे कांवड़ ग्रुप को प्रशासन सुरक्षा का माहौल देते हुए वहां तक पहुंचाने में योगदान भी देता है।मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने सीतापुर में 485 करोड़ रुपये की योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने सपा, बसपा व कांग्रेस पर निशाना साधा। कहा कि प्रदेश की राजधानी के सबसे नजदीक होने के बावजूद सीतापुर विकास में सबसे पिछड़ा था। भाजपा की सरकार बनने के बाद सीतापुर को सबसे ज्यादा प्रधानमंत्री शहरी व ग्रामीण आवास दिए गए। यही नहीं, पांच लाख परिवारों को उज्वला योजना का लाभ दिया गया। उन्होंने कहा कि वर्ष 2017 से पहले चेहरा देखकर बिजली आपूर्ति की जाती थी। अब ऐसा नहीं है।सीतापुर हो या फिर रामपुर सबको एक समान बिजली मिल रही है। उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि सीतापुर की जेल को भी उतनी ही बिजली मिल रही होगी। उन्होंने भ्रष्टाचार को लेकर सपा, बसपा व कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पहले कोई भर्ती निकलती थी तो एक खानदान के लोग वसूली के लिए निकल पड़ते थे। गरीबों का पैसा डूब जाता था और नौकरी भी नहीं मिलती थी। नौकरी का मसला कोर्ट में चला जाता था। अब ऐसा नहीं है। भाजपा सरकार ने पारदर्शिता से साढ़े चार लाख लोगों को नौकरी दी है। उन्होंने कहा कि पहले खाद्यान्न भी गरीबों को नहीं मिलता था। सपा के शासन में सैफई चला जाता था और बसपा के शासन में बहनजी का हाथी खा जाता था। उन्होंने कांग्रेस के राज में सरकारी योजनाओं का लाभ लोगों को नहीं मिलता था। उन्होंने कहा कि पहले राजनीतिक दल गरीबों का खाता नहीं खुलने देते थे। ऐसा करने देते तो उनके खाते बंद हो जाते। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हर गरीब का खाता खुलवाया और अब सरकारी योजनाओं का धन सीधे गरीब के खाते में आता है। मुख्यमंत्री ने सिधौली में आयोजित कार्यक्रम के बारे में भी कहां कि अगर हमारा विधायक यहां भी होता तो आज 500 करोड़ नहीं, 1000 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण होता।