यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

ट्विटर ने चुनाव में बनाया रिकॉर्ड, 600 फीसद बढ़ोतरी के साथ 40 करोड़ किए गए ट्वीट


🗒 शुक्रवार, मई 24 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

ट्विटर इंडिया ने गुरुवार को बताया कि इस साल लोकसभा चुनाव के दौरान वर्ष 2014 के मुकाबले ट्वीट में 600 फीसद की बढ़ोतरी दर्ज की गई। एक जनवरी से 23 मई तक कुल 40 करोड़ ट्वीट दर्ज किए गए।एक बयान में ट्विटर ने बताया, 11 अप्रैल से 19 मई तक के छह हफ्तों के बीच ट्विटर पर चुनावी मुद्दों में राष्ट्रीय सुरक्षा सबसे ज्यादा चर्चित रहा। इसके बाद धर्म, रोजगार, कृषि और नोटबंदी का नंबर आया। चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सबसे ज्यादा टैग किया गया।भाजपा और एनडीए के हैंडल को 53 फीसद लोगों ने टैग किया। कांग्रेस और यूपीए के अन्य घटक दलों को 37 फीसद लोगों ने टैग किया। वैसे तो ज्यादातर हिंदी और अंग्रेजी भाषा में ही ट्वीट किए गए, लेकिन तमिल और गुजराती में ट्वीट करने वालों की संख्या भी ठीक-ठाक रही।ट्विटर ने साफ किया कि लोकसभा चुनाव की अखंडता बनाए रखने के लिए उसने आवश्यक कदम उठाए। उसने दावा किया कि मानकों व नियमों के अनुपालन के लिए अलग पोर्टल बनाया था, जिससे लोग सीधे तौर पर उसे शिकायत कर सकें।

ट्विटर ने चुनाव में बनाया रिकॉर्ड, 600 फीसद बढ़ोतरी के साथ 40 करोड़ किए गए ट्वीट

विशेष से अन्य समाचार व लेख

» अब अस्पताल में भी पैसे पहुंचाएगा डाकिया, आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम

» अब 20 दिसंबर से ई-सुविधा केंद्रों में जमा कर सकेंगे हाउस टैक्स

» एक बार फिर यातायात पुलिस की वर्दी में बदलाव फिर नीली टोपी लगाएगी यातायात पुलिस, इंस्पेक्टर-दारोगा की भी बदलेगी ड़्रेस

» अब हफ्तेभर के अंदर DL आपके हाथ में, 16 हजार आवेदकों का रास्ता साफ

» दीपावली पर पद्म योग का अद्भुत संयोग

 

नवीन समाचार व लेख

» डीजीपी सम्मेलन में शामिल हुए पीएम मोदी, कहा- जवानों के अदम्य साहस को सलाम करते हैं

» उन्नाव कांड मे देर रात पहुंचे बिटिया के शव को देख गश खाकर गिरे बूढ़े मां-बाप

» बहराइच में शोहदों से परेशान दो बहनों ने छोड़ा स्कूल, आत्मदाह की चेतावनी

» NSUI ने उन्‍नाव कांड को लेकर जताया विरोध, मुख्‍यमंत्री के फोटो को कर दिया काला

» गोरखपुर -अभियुक्तों की गिरफ्तारी व सही विवेचना के लिए आमरण अनशन पर बैठी महिला का प्रशासन ने नहीं लिया अब तक कोई हालचाल