यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कविता -कृषक आज हम भारत के कहाँ चैन से सोते है .......


🗒 मंगलवार, जुलाई 28 2020
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड

अपने ही हमको शोषित करते

कविता -कृषक आज हम  भारत के कहाँ  चैन से सोते है .......

अपने ही घावों को देते  है

कृषक हितों की बलि चढ़ती है

भारत की अपनी सत्ता  में

कृषक आज हम भारत के

कहाँ  चैन से सोते है .....।।

 

बदहाली का हम जीवन जीते

सपनो पर पानी फिरता है

हालातों के झूठे दावों से

उम्मीदों पर मरहम लगता है

कृषक आज हम  भारत के

कहाँ  चैन से सोते है.......   ।।

 

धरती माँ के आँचल में

उम्मीदों को हम बोते है

उम्मीदों के उन सपनों से

नीव भविष्य की रखते है

कृषक आज हम भारत के

कहाँ   चैन से सोते है ......।।

 

बूँद पसीने की माथे से

मिट्टी पर जब गिरती है

मेहनत की उन बूदों से

मोती अन्न के उगते है।

उन मोती के दानों से

जीवन सबका चलता है

उपेक्षित बदहाली का जीवन

फिर भी हम तो जीते  है।

कृषक आज हम भारत के

कहाँ  चैन से सोते है.........।।

 

कितने ही टूटे सपने लेकर

बड़े घाव हम सहते है।

राजनीति के गलियारों में

ठगे हुए हम फिरते है

मानवता की पूजा को

हम कृषक दिलो रखते है

अनेक दुखों को सहकर भी

हम अन्न के मोती देते है

कृषक आज हम इस भारत के

कहाँ चैन से सोते है ..........।।

 

नाम हमारा कुर्सी खातिर

ऊँचे स्वर में गाया जाता है

वादों के झूठे बन्डल में

हमको भरमाया जाता है

कृषक आज हम भारत के

कहाँ चैन से सोते है......।।

 

बहुत हुआ अब नही सहेंगे

आपके  झूठे   वादों को

खुद सामर्थ्य अभी भी हम पर

परिवर्तन हम  सब   कर देगे

 

कृषक आज हम  भारत के

कहाँ चैन से सोते है,,,,,,,,,।।

        प्रतापनारायण(पी एन) त्रिपाठी

                       युवा रचनाकार

                            बाँदा चित्रकूट,

विशेष से अन्य समाचार व लेख

» कविता -बिरोधी से यदि लड़ना है तो, निज कमियों से लड़ना होगा।।

» भारत में ओन-लाइन मनाया गया विश्व फालुन दाफा दिवस

» बिहार के एक मजदूर का ऐसा दर्द उनकी आंखों से भी आंसू निकल पड़े।

» विश्व फालुन दाफा दिवस की 21वीं वर्षगाँठ

» इस सौन्दर्य प्रतियोगी से चीन क्यों डरा हुआ है?

 

नवीन समाचार व लेख

» महोबा -जिले में होम आइसोलेशन सुविधा शुरू, 12 संक्रमित ले रहे लाभ

» कविता -कृषक आज हम भारत के कहाँ चैन से सोते है .......

» श्रावस्ती में ठेकेदार से फोन पर मांगी पांच लाख की फिरौती, आरोपित गिरफ्तार

» बुलंदशहर में लूट का सामान बरामद करने गई पुलिस को फौजी ने साथियो संग पीटा, फाड़ी सिपाही की वर्दी

» सहारनपुर में अस्पताल की लापरवाही, अस्‍पताल की दहलीज पर तड़प-तड़पकर बुजुर्ग ने तोड़ा दम