यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लखनऊ-कानपुर हाईवे पर डंपर चालक को नसीहत देना पड़ा भारी, कार में टक्कर मारकर ली मामा-भांजी की जान


🗒 सोमवार, मई 27 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

लखनऊ-कानपुर हाईवे पर हुए कार हादसे में 14 दिन बाद ही नववधू का सुहाग उजडऩे से परिजन गमगीन थे, इस बीच उन्हें उस समय एक और धक्का तब लगा जब घायल किशोरी ने अपनी बहन और मामा की मौत की सच्चाई बताई। उसने बताया कि हाईवे पर गलत तरीके से ओवरटेक कर रहे डंपर चालक को मामा ने ठीक से ड्राइविंग के लिए नसीहत दी थी, जिसके बाद डंपर चालक ने कट मारते हुए कार में टक्कर मार दी थी। कार पलटने से बहन और मामा की मौत हो गई और वह जख्मी हो गई। परिजनों ने पुलिस को घटना की जानकारी दी है।गंगाघाट थाना क्षेत्र के पीपरखेड़ा निवासी 25 वर्षीय शैलेंद्र पाल पुत्र लाला ट्रक चलाकर परिवार का गुजारा करता था। अजगैन के गाजीगंज सरांय इंदल में ब्याही बहन रामकली को शनिवार शाम वह कार से छोडऩे उसकी ससुराल गया। देर रात वह 13 वर्षीय भांजी शालू और 10 वर्षीय भांजी लवी को साथ लेकर अपने घर को निकला। लखनऊ-कानपुर हाईवे पर सदर कोतवाली के शेखपुर नरी गांव के पास अचानक उसकी कार डिवाइडर से टकरा दूसरी दिशा में जाकर पलट गई। हादसे में शैलेंद्र और शालू की मौके पर मौत हो गई, जबकि दूसरी भांजी लवी मामूली घायल हो गई।रविवार को पोस्टमार्टम हाउस में मौजूद घायल भांजी लवी ने बताया कि देर रात कार अपने आप नहीं बल्कि डंपर चालक के टक्कर मारने के बाद पलटी थी। उसने बताया कि डंपर चालक ने गलत ढंग से कार को ओवरटेक किया था। इस पर मामा शैलेंद्र ने कार की रफ्तार बढ़ाई और ट्रक के बराबर जाकर चालक को सही ढंग से चलने की बात कही। कार अभी आगे बढ़ी ही थी कि डंपर चालक ने साइड से जोरदार टक्कर मार दी। उसने बताया कि डंपर चालक ने मामा के समझाने पर खुन्नस में जान बूझकर टक्कर मारी। पुलिस घटना की जांच कर रही है।पोस्टमार्टम हाउस में बिलख रहे परिजनों ने बताया कि शैलेंद्र तीन भाइयों में सबसे छोटा था। 14 दिन पहले, 12 मई को उसकी शादी कानपुर अकबरपुर के बैजूपुरवा में लवली के साथ हुई थी। अभी हाथ की मेंहदी का रंग फीका भी न पड़ा था कि पति की मौत की सूचना पर लवली कांप उठी। दोपहर बाद शव घर पहुंचा तो पत्नी शव से चिपट कर बेहाल हो गई। अन्य परिजनों का भी रो-रोकर बुरा हाल रहा।

लखनऊ-कानपुर हाईवे पर डंपर चालक को नसीहत देना पड़ा भारी, कार में टक्कर मारकर ली मामा-भांजी की जान

उन्नाव से अन्य समाचार व लेख

» उन्नाव कांड में बिहार के थानाध्यक्ष के अलावा दो दारोगा और चार सिपाही निलंबित

» उन्नाव कांड मे नौकरी और शस्त्र लाइसेंस की शर्त पर दफनाया शव

» उन्नाव में पीड़िता के अंतिम संस्कार के बाद बहन ने दिया सीएम योगी आदित्यनाथ को अल्टीमेटम

» उन्नाव कांड मे देर रात पहुंचे बिटिया के शव को देख गश खाकर गिरे बूढ़े मां-बाप

» उन्नाव पहुंची प्रियंका वाड्रा, पीडि़त परिवार वालों से मिलकर बंधाया ढांढस

 

नवीन समाचार व लेख

» बांदा -डीएम की ड्योडी में फरियादी को पढ़ा हार्ड अटैक का दौरा

» महोबा- कैैम्प लगाकर भरवाये गये प्रधानमंत्री आवास योजना के आवेदन

» महोबा-कार्यकर्ता मिलन समारोह में जितेन्द्र सेंगर का हुआ सम्मान

» बांदा- थानेदार की शिकायत कप्तान से

» बांदा- एस पी ने पहल का फायर बिग्रेड ग्राउंड में नालेज पार्क लगाया