यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

CBI के 18 गवाहों को रात-ओ-रात दी गई गनर की सुरक्षा


🗒 शनिवार, अगस्त 10 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

माखी दुष्कर्म कांड में पीडि़ता और उसके घायल वकील के परिवार के साथ पैरवी करने वाले वकीलों को सीआरपीएफ की सुरक्षा देने के बाद अब सीबीआई के 18 गवाहों को भी रात-ओ-रात सुरक्षा दे दी गई। शुक्रवार को शासन से आदेश मिलते ही रात में ही पुलिस उच्चाधिकारियों ने गवाहों की सूची और गनरों की व्यवस्था रात में ही कर दी।माखी दुष्कर्म कांड में सीबीआई ने 18 स्वतंत्र गवाह बनाए हैं। अभी तक गवाहों की सुरक्षा को लेकर कोई पहल नहीं की गई थी लेकिन रायबरेली में सड़क हादसे के बाद सर्वोच्च न्यायालय के कड़े रुख पर दुष्कर्म पीडि़ता और उसके परिवार की सुरक्षा में सीआरपीएफ लगाई गई है। पीडि़ता के तीनों वकीलों को भी यह सुरक्षा मिली है। सीबीआई ने जिन 18 लोगों को गवाह बनाया है, उनकी सुरक्षा के लिए गनर दिए जाएं। इस आशय का आदेश शुक्रवार देर शाम रात एसपी को मिला तो उन्होंने गवाहों की सूची लेकर तत्काल गनर का प्रबंध किया। एसपी एमपी वर्मा ने बताया कि 18 गवाहों को गनर दिए गए हैं, जिनकी रात में ही तैनाती के आदेश दिए हैं।माना जा रहा है कि दुष्कर्म पीडि़ता के पिता का इलाज करने तथा पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर भी मुख्य गवाह हैं, ऐसे मेें उन्हें भी सुरक्षा मुहैया कराई जा सकती है। शासन के निर्देश पर गुरुवार को अंडर सीएमओ और जिला अस्पताल के डॉक्टरों की सूची और एलआइयू जांच करा रिपोर्ट भेजी गई है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि शनिवार तक डॉक्टरों की भी सुरक्षा तय की जा सकती है। आईजी एसके भगत के मुताबिक 18 गवाहों की सूची मिली थी, जिन्हें गनर देने के लिए एसपी को निर्देश दिया है।

CBI के 18 गवाहों को रात-ओ-रात दी गई गनर की सुरक्षा

उन्नाव से अन्य समाचार व लेख

» पीएम के आगमन को लेकर अटल घाट क़ी सफाई शुरू

» उन्नाव के चकलवंशी-बिठूर मार्ग पर बीमार पिता को दवा दिलाने ले जा रहा था बेटा, रास्ते में चली गई दोनों की जान

» उन्नाव में माखी दुष्कर्म कांड की धीमी विवेचना पर सीबीआइ की विवेचक को कड़ी फटकार

» उन्नाव मे 34 साल से पुलिस की आंखों में धूल झोंक रहा था बाबा

» माखी दुष्कर्म कांड मे सीबीआइ ने दस गवाहों को माखी थाने बुलाया, पांच ने ही दर्ज कराए बयान

 

नवीन समाचार व लेख

» कैबिनेट की बैठक में उप्र कृषि निर्यात नीति में हुए अहम बदलाव, निर्यात को बढ़ावा देने के लिए कलस्टर में होगी खेती

» स्वामी चिन्मयानंद केस में वायरल हुआ एक और वीडियो, रंगदारी से जुड़ा होने का दावा

» सांसद आजम खां के रिसॉर्ट में नलकूप लगाने में अफसरों के खिलाफ होगी रिपोर्ट

» आशियाना कॉलोनी के पराग डेरी चैराहा के पास से मोहर्रम जुलूस निकाला गया

» विद्युत विभाग केंद्र बदौसा के एसएसओ की लापरवाही आयी सामने