उन्नाव मे गंगा स्नान कर रहे दो युवक और किशोर की डूबकर मौत, तीन साथियों को ग्रामीणों ने बचाया

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

उन्नाव मे गंगा स्नान कर रहे दो युवक और किशोर की डूबकर मौत, तीन साथियों को ग्रामीणों ने बचाया


🗒 सोमवार, अगस्त 12 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

सावन के सोमवार पर परिवार संग गंगा नहाने बंदीपुरवा घाट पर आए दो युवक और चार किशोर गहरे पानी में डूब गए। घाट पर मौजूद लोगों ने तीन किशोरों को बचा लिया, लेकिन दो युवकों और एक किशोर की डूबकर मौत हो गई। पुलिस ने गोताखोरों की मदद से कई घंटे की मशक्कत के बाद तीनों के शवों को बाहर निकलवाया। शवों को देखकर परिजनों में कोहराम मच गया और घाट पर लोगों की भीड़ लगी रही।अचलगंज थानाक्षेत्र के बंदीपुरवा घाट पर कई परिवार गंगा नहाने आए थे। इस बीच मवइया लायक गांव निवासी 18 वर्षीय सुजीत पुत्र राजकुमार और 15 वर्षीय अरुण पुत्र मुकेश, बदरका निवासी 20 वर्षीय रिंकू पुत्र रामू, गौरव पुत्र राजकुमार, सफीपुर निवासी रौनक पुत्र श्रीपाल और बदरका निवासी अनिल पुत्र धर्मराज गहराई में जाने से डूबने लगे। छह लोगों को डूबते देखकर घाट किनारे चीख पुकार मच गई। गंगा किनारे मौजूद तैराक युवकों ने किसी तरह गौरव, रौनक व अनिल को सकुशल बाहर निकाल लिया।वहीं सुजीत, अरुण व रिंकू गंगा की लहरों में समा गए। साथ आए परिजनों में कोहराम मच गया और लोगों ने अचलगंज पुलिस को सूचना दी। जानकारी मिलते ही घाट पर पहुंची पुलिस ने शुक्लागंज से गोताखोरों को बुलाया। घाट पर आए गोताखोरों ने काफी मशक्कत के बाद सुजीत व अरुण के शव बाहर निकाले। रिंकू का पता न चलने पर पुलिस ने एसडीआरएफ की टीम को सूचना दी। टीम के पहुंचने से पहले गोताखोरों ने रिंकू का शव भी खोज लिया और बाहर निकाला। शवों को देखते ही परिजनों में कोहराम मच गया, वहां मौजूद लोगों की भी आंखें नम हो गईं।

उन्नाव मे गंगा स्नान कर रहे दो युवक और किशोर की डूबकर मौत, तीन साथियों को ग्रामीणों ने बचाया

उन्नाव से अन्य समाचार व लेख

» उन्नाव-सपा जिलाध्यक्ष का हुआ भव्य स्वागत

» मुद्दों को उठाना व समाधान ढूंढना पत्रकारिता का कर्तव्य जिलाधिकारी

» उन्नाव वैन में जिंदा जले सातों लोगों की हुई पहचान, मरने वालों में वैन मालिक सहित दूल्हे के रिश्तेदार

» उन्नाव में मिले कोरोना वायरस के दो संदिग्ध मरीज

» पूर्व बार एसोसिएशन अध्यक्ष व उनके साथियों ने लगाए अध्यक्ष मुर्दाबाद के नारे

 

नवीन समाचार व लेख

» बांदा -7 साल बाद फरार हत्यारे को पुलिस ने सलाखों के पीछे भेजा

» बांदा - आग का गोला फुल से कूदी खाई में जनहानि नहीं

» बांदा -गौ सेवा करने वाला मनुष्य मुझको प्राप्त करता है श्रीमद् भागवत कथा

» बांदा -मेडिकल कॉलेज से आयुष्मान कार्ड होने के बाद भी बिना इलाज वापस किया

» महोबा- इलाज के लिए आए मरीजों से अभद्रता पर किसान यूनियन में आक्रोश