यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

उन्नाव मे बूढ़ी मां को तब तक बेरहमी से पीटता रहा जब तक नहीं हो गई मौत


🗒 सोमवार, अगस्त 12 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

अचलगंज थाना क्षेत्र के अर्चित खेड़ा के मजरा पडऱी कला में 70 वर्षीय शारदा पत्नी भगीरथ अपने बेटे के साथ रहती थीं। पुत्र राजकिशोर उर्फ नन्हके को पाल-पोश कर बड़ा किया और बुढ़ापे की लाठी बनने की आस लगाए थीं। राजकिशोर गलत संगत में आकर शराब का लती हो गया, जिसे लेकर रोजाना उसकी मां से बहस होती थी। शराब के नशे में नन्हके घर आता तो मां उसे टोकती थी और शराब पीने से मना करती थी। रविवार रात भी वह शराब पीकर घर आया तो शारदा ने विरोध जताया था।शराब पीने से मना किया तो नन्हके गुस्से में आ गया। बहस शुरू होने पर नन्हके ने बूढ़ी मां को बेरहमी से पीटना शुरू कर दिया। तेज शोर सुनकर नन्हके के भाई श्रीकृष्ण और राजकुमार भी आ गए। भाइयों ने नन्हके को रोकने का प्रयास किया लेकिन वो नहीं माना और पीट-पीटकर मां को मार डाला। मां के बेदम होते ही नन्हके भाग निकला। श्रीकृष्ण और राजकुमार ने मां को डॉक्टर को दिखाया तो उन्हें मृत घोषित कर दिया। उनकी तहरीर पर पुलिस ने घटना की छानबीन आर नन्हके की तलाश शुरू की है।

उन्नाव मे बूढ़ी मां को तब तक बेरहमी से पीटता रहा जब तक नहीं हो गई मौत

उन्नाव से अन्य समाचार व लेख

» उन्नाव वैन में जिंदा जले सातों लोगों की हुई पहचान, मरने वालों में वैन मालिक सहित दूल्हे के रिश्तेदार

» उन्नाव में मिले कोरोना वायरस के दो संदिग्ध मरीज

» पूर्व बार एसोसिएशन अध्यक्ष व उनके साथियों ने लगाए अध्यक्ष मुर्दाबाद के नारे

» चमरौली सेक्टर में मनाई गई पंडित दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि

» समाजवादी रथ यात्रा का आज दूसरा दिन नवाबगंज टोल प्लाजा पर किया गया भव्य स्वागत