यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पिता-पुत्र की हत्या के मामले में तीन गिरफ्तार


🗒 शनिवार, अप्रैल 09 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
पिता-पुत्र की हत्या के मामले में तीन गिरफ्तार

शामली, । पैसों के लेनदेन के विवाद में पिता-पुत्र की हत्या के मामले में आरोपित सिपाही विक्रांत और उसके पिता सहित तीन आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित सिपाही के कब्जे से सरकारी पिस्टल भी बरामद कर लिया है।बीते बुधवार को कांधला थाना क्षेत्र के गांव सल्फा में भूपेन्द्र और उनके बेटे अर्जुन निवासी गांव छुर, सरधना (हाल निवासी न्यू सैनिक विहार मेरठ) की गोलियां मारकर हत्या कर दी गई थी। मामले में गुरुवार को भूपेन्द्र की मां सुरेश ने मुकदमा दर्ज कराया था।शनिवार को पुलिस ने मुख्य आरोपित सिपाही विक्रांत, उसके पिता वीरेंद्र और साथी मोनू निवासी गांव मखमूलपुर, कांधला को कोर्ट में पेश किया। तीनों आरोपितों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। विक्रांत और मोनू को पुलिस ने शुक्रवार को हिरासत में लिया था। इनसे पूछताछ की गई थी। इससे पूर्व पुलिस ने सिपाही के भाई अर्जुन का चालान किया था।हत्या में प्रयुक्त कार, एक पिस्टल .32 बोर व दो ङ्क्षजदा कारतूस, एक सरकारी पिस्टल 9 एमएम व नौ जिंदा कारतूस पुलिस ने बरामद किए हैं। इसके अलावा कार के अंदर सिपाही विक्रांत की जली हुई कमीज की राख, कार की जली हुई सीट की राख व कार की कटी फटी पिछली सीट तथा कार के अंदर से तीन खोखा कारतूस .32 बोर भी बरामद किए हैं।आरोपित सिपाही विक्रांत ने थाना प्रभारी श्यामबीर सिंह को बताया कि उसने 5.80 लाख रुपये अपने भाई अर्जुन की नौकरी लगवाने के लिए भूपेन्द्र को दिए थे। काफी समय से वह अपने रुपये मांग रहा था, लेकिन भूपेन्द्र उसे दो लाख रुपये देने की बात कह रहा था। जबकि वह अपने पूरे पैसे मांग रहा था। इसी को लेकर विवाद हुआ था। इसके बाद उसने अपने भाई, पिता व एक दोस्त के साथ मिलकर भूपेन्द्र व अर्जुन की हत्या कर दी और गांव सल्फा के जंगल में शव फेंक दिए थे।