यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

संतकबीर नगर, लखीमपुर, बहराइच व श्रावस्ती में आंधी-पानी से चार की मौत


🗒 शनिवार, मई 13 2017
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
संतकबीर नगर, लखीमपुर, बहराइच व श्रावस्ती में आंधी-पानी से चार की मौत
प्रदेश में आज तड़के लखीमपुर, बहराइच व संत कबीरनगर में तेज आंधी के साथ बरसात चार लोगों के लिए जानलेवा साबित हो गई। गोरखपुर में दो जगह पेड़ तथा लखीमपुर में घर की स्लैब गिरने से चार लोगों की मौत हो गई। संतकबीर नगर जिले में सुबह बारिश के साथ आई आंधी ने एक बार फिर जमकर कहर बरपाया। धनघटा थानाक्षेत्र में पेड़ गिरने से दो महिलाओं व एक पुरुष समेत तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि विभिन्न स्थानों पर एक दर्जन से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। इसके साथ ही आंधी के दौरान कई पेड़ गिरने के चलते जनपद की कई सड़को पर आवागमन बाधित हो गया है। आंधी में मौत की पहली घटना धनघटा थानाक्षेत्र के शनिचरा बाजार के लालापुरवा में हुई। यहां परशुराम के घर पर जामुन का पेड़ गिरने से उनकी पत्नी चंदा देवी (35) की मौत हो गई। दूसरी घटना मूडाडीहा में हुई। आंधी के दौरान पेड़ के नीचे पनाह लेकर खड़ी रानीपुर निवासी उर्मिला पत्नी सुभाष के ऊपर ही पेड़ गिर पड़ा और उनकी मौत हो गई। घटना उस वक़्त हुई जब वह अपनी बहन के पुत्र महुली थानाक्षेत्र के तरयापार के रहने वाले पंकज के साथ घर जा रही थीं। इस घटना में पंकज, शिवा, बबलू, चंदन, महंगी आदि भी गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें इलाज के लिए मलौली अस्पताल भेजा गया है। तीसरी घटना सोनडीहा गांव में हुई। गांव के जयहिंद (30) पुत्र रामअवध यादव शौच के लिए गए थे, उसी दौरान आंधी-बारिश शुरू हो गई। खुद के बचाव के लिए वह बाँसवारी के बगल में बैठ गए लेकिन आंधी के कारण बांसवाड़ी जड़ सहित जयहिंद के ऊपर पलट गई और उनकी मौत हो गई। महुली में दीवार गिरने से दो घायल महुली थानाक्षेत्र के अजांव के रहने वाले लालचंद (30) पुत्र जगदेव व ग्राम करनपुर निवासी विमला देवी (55) पत्नी राममिलन भी दीवार गिरने से घायल हो गए। दोनों को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नाथनगर ले जाया गया, हालत गंभीर देखते हुए दोनों को संयुक्त जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया गया। लखीमपुर के मैगलगंज क्षत्र के ककरहा गांव में कल देर रात आई आंधी तूफान से कमरे की स्लैब ढह गई। जिसके कारण एक युवक की दबकर मौत हो गई। दूसरी ओर ग्राम श्रीपालपुर में सोबरन राज पुत्र परसादी राज के ऊपर आकाशीय बिजली गिरने से उसकी मौके पर मौत हो गई। यहां पर बिजली गिरने से बकरी और एक कुत्ते की भी मौत हुई। बहराइच में भी आज आंधी पानी के साथ ओले गिरे। जिसके कारण लोगों के घर के छप्पर उड़ गए जबकि कई जगह पर पेड़ गिरे हैं। तूफानी आंधी के पानी गिरने से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। श्रावस्ती में भी तेज आंधी के कारण कई जगह बड़े-बड़े पेड़ गिरने से वहां पर जनजीवन प्रभावित है। कई जगह पर छप्पर उड़ गए तो कई जगह पर बारिश के कारण जलभराव हो गया है।