यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

जिला सम्‍भल में पुलिस मुठभेड़ में मारा गया ढाई लाख का इनामी बदमाश शकील


🗒 रविवार, अगस्त 11 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

गत 17 जुलाई को बंदियों की चलती वैन में दो सिपाहियों की हत्या कर भागे तीन बदमाशों में से दूसरे को भी पुलिस ने मुठभेड़ में ढेर करने का दावा किया है। मारे गए बदमाश पर ढाई लाख रुपये का इनाम घोषित था। मुठभेड़ की इस घटना में स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप के दो सिपाहियों को भी गोली लगी है। उन्हें सीएससी में प्राथमिक उपचार के बाद जनपद अस्पताल रेफर किया गया है।गौरतलब है कि बंदियों वैन में दो सिपाहियों की हत्या कर तीन बदमाश फरार हो गए थे। पुलिस ने तीनों को जिंदा या मुर्दा पकडऩे पर ढाई-ढाई लाख रुपये का इनाम घोषित किया था। इनमें से कमल को अमरोहा पुलिस ने गत 20 जुलाई को मुठभेड़ में मार गिराया था, जबकि धर्मपाल व शकील अभी तक फरार चल रहे थे। सम्भल पुलिस ने एसपी यमुना प्रसाद के नेतृत्व में दोनों बदमाशों को पकडऩे के लिए अभियान चला रखा था। रविवार को मुखबिर द्वारा पुलिस को सूचना मिली कि गवां क्षेत्र के मौलनपुर के जंगल में चार बदमाश रूके हुए हैं और वह किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में लगे हैं। आशंका जताई कि इनमें धर्मपाल व शकील भी हो सकते हैं। इसका पता चलते ही सम्भल पुलिस बदमाशों को पकडऩे के लिए जाल बिछा दिया। आनन फानन में एसओजी टीम के साथ ही एसपी यमुना प्रसाद ने गुन्नौर, धनारी और रजपुरा थाना पुलिस के साथ जंगल को घेर लिया।पुलिस को देखते ही बदमाश सतर्क हो गए। उन्होंने टीमों पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी और भागने लगे। इसी दरम्यान अपना बचाव करते हुए पुलिस टीमों ने भी जवाबी फायरिंग की। इसमें एक बदमाश पुलिस की गोली लगने से घायल हो गया। इसके अलावा एसओजी टीम के सिपाही विनीत व विकास को भी गोली लगी और वे जख्मी हो गए। बदमाशों की फायरिंग थमते ही पुलिस तेजी के साथ जंगल के अंदर घुसकर खोजबीन करने लगी। एक बदमाश उसे गोली लगने से जख्मी मिला। घायल बदमाश व सिपाहियों को पुलिस ने तुरंत अस्पताल पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने बदमाश को मृत घोषित कर दिया। घायल सिपाही जनपद अस्पताल रेफर कर दिए गए। उधर मौलनपुर के जंगल में  एएसपी आलोक जायसवाल, सीओ सम्भल केके सरोज, सीओ गुन्नौर अशोक सिंह, इंस्पेक्टर धनारी, गुन्नौर औरे रजपुरा के अलावा आदमपुर थाने की पुलिस भी बैक सपोर्ट में पहुंच गई। समाचार लिखे जाने तक पुलिस जंगल में अन्य बदमाशों की खोजबीन में जुटी थी। मारा गया बदमाश ढाई लाख का इनामी शकील है या नहीं, इसके बारे में अभी अधिकारी बोलने को तैयार नहीं है। पुलिस अधिकारी इस बार किसी भी गलती के मूड में नहीं है। हालांकि यह स्पष्ट हो चुका है कि मरने वाला शकील ही है लेकिन दबी जुबान ही अफसर इसे स्वीकार रहे हैं। उधर एसपी के अलावा अन्य अफसर किसी भी मीडिया से बात करने में कतराते रहे। पुलिस का पूरा ध्यान बचे तीन अन्य बदमाशों पर केन्द्रित है और वह उनको तलाशने में जुटे हैं

जिला सम्‍भल में पुलिस मुठभेड़ में मारा गया ढाई लाख का इनामी बदमाश शकील

उत्तर प्रदेश से अन्य समाचार व लेख

» अखिलेश यादव ने कहा एनकाउंटर के नाम पर युवाओं की हत्या कर रही है योगी सरकार

» उन्नाव दुष्कर्म मामले में महिला आयोग ने पीड़िता के लिए तलाशा घर, मगर कोर्ट से मांगा 7 दिन का वक्‍त

» उप चुनाव में भाजपा संगठन और सरकार ने झोंकी ताकत

» पूर्व सांसद भालचंद यादव का 61 साल की उम्र में निधन

» मथुरा के सात खिलाड़ियों ने नेपाल में लहराया परचम

 

नवीन समाचार व लेख

» जिला फतेहपुर में हाईस्कूल छात्रा की मौत के बाद भीड़ ने ट्रक फूंका

» घाटमपुर क्षेत्र में खेत में बच्ची से दुष्कर्म के पीटा, ऑडियो वायरल होने पर हरकत में आई पुलिस

» अलीगढ मे प्रधान के पति की गोली मारकर हत्या, गांव में तनाव व लोगों में दहशत

» देवबंद में भाजपा पिछड़ा प्रकोष्ठ के जिला उपाध्यक्ष की गोली मारकर हत्‍या

» कौशांबी जनपद में तमंचे के बट से घायल कर पेट्रोल पंप कर्मी से नकदी व मोबाइल लूटे