यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

यूपी के सभी 75 जिलों में फैला कोरोना, गिरफ्त में ज्यादा युवा


🗒 बुधवार, मई 13 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में अब कोरोना पॉजिटिल केस पाए जा चुके हैं। एक मात्र बचे जिले चंदौली मे भी बुधवार को एक संक्रमित व्यक्ति मिला गया है।प्रदेश में बुधवार को 116 नए कोरोना संक्रमित मिले और एक व्यक्ति की मौत हो गई। इसके साथ राज्य में अब तक कुल 3758 मरीज पाए जा चुके हैं, जबकि 87 लोगों ने दम तोड़ दिया है। अभी तक 1965 संक्रमित लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। राज्य में अब तक मिले मरीजों में सर्वाधिक 21 से 40 वर्ष तक के 48.2 फीसद यानी 1783 युवा हैं। वही 41 से 60 आयु वर्ग के 26.1 प्रतिशत यानी 965 लोग कोरोना पॉजिटिव हैं। नवजात शिशु से 20 वर्ष तक के 17.6 फीसद बीमार हैं। वही सबसे कम 7.9 प्रतिशत बुजुर्ग कोरोना संक्रमित हैं।लखनऊ में बुधवार को किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय (केजीएमयू) के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में जांचे गए 1524 नमूनों में से 37 पॉजिटिव मिले हैं। इनमें 15 लखनऊ, 10 कन्नौज और कानपुर व फर्रुखाबाद 6-6 संक्रमित लोग शामिल हैं। हालांकि इनकी अंतिम रिपोर्ट सीएमओ ही जारी करेंगे। क्योंकि इनमें कई मरीजों की दोबारा जांच भी करवाई गई है। लखनऊ के आलमबाग में एक मजदूर कोरोना संक्रमित मिला है। यह बस से दूसरे जिले से लखनऊ पहुचा था। इसके साथ ही गाजियाबाद में एक कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति की मेरठ मेडिकल कॉलेज में मौत हो गई है। मेरठ में आठ और उन्नाव में एक कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।मुरादाबाद में एक बार फिर से कोरोना बम फूटा और एक ही दिन में आठ कोरोना संक्रमित मरीज मिले। एक मरीज की रिपोर्ट सुबह जबकि अन्य सात की रिपोर्ट दोपहर के बाद मिली। एक साथ इतने कोरोना पॉजिटिव केस आने से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। मंगलवार को भी चार कोरोना पॉजिटिव मिले थे जिसमें से दो रिपिट केस थे। आठ अन्य मरीजों के मिलने से अब मुरादाबाद में कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 133 हो गई है। हालांकि इसमें से 89 लोग ठीक होकर अपने घर भी जा चुके है। पांच लोगों की मौत भी अब तक कोरोना वायरस के संक्रमण से हो चुकी है।अलीगढ़ शहर में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। तीन दिन पहले देहली गेट क्षेत्र की कैलाश गली निवासी जिस महिला की मौत हुई थी। उसका इलाज करने वाले डॉक्टर समेत तीन लोग और संक्रमित मिले हैं। जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 64 हो गई है। अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं अहमदाबाद से औरैया लौटे तीन युवक कोरोना पॉजिटिव निकलें थे। इनके साथ आए संक्रमित युवक का भाई व एक महिला भी संक्रमित निकले। अब तक जिले में 21 संक्रमित मिल चुके हैं, जिसमें 13 सही हो चुके हैं। अब एक्टिव मरीजों की संख्या आठ  है।आगरा में कोरोना वायरस का संक्रमण सेंट्रल जेल की चहारदीवारी के अंदर भी पहुंच गया है। एसएन में भर्ती कराए सेंट्रल जेल के बंदी के कोरोना पॉजीटिव मिलने उसके यहां पर इलाज के दौरान संक्रमित होने की आशंका थी, लेकिन कोरोना संक्रमित बंदी के साथ बैरक में रहे दस और बंदियों की रिपोर्ट बुधवार को पॉजीटिव आने के बाद जेल में हड़कंप की स्थिति है। जिन बंदियों की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है, उन्हें एक सप्ताह पहले ही विशेष बैरक में क्वारंटीन किया जा चुका है।सिद्धार्थनगर में बुधवार को चार और कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इसमें दो शोहरतगढ़ के राम कुमार खेतान बालिका स्कूल में क्वारंटाइन हैं, जबकि दो मरीज बांसी के डीडई में क्वारंटाइन हैं। जिले में अब तक संक्रमितों की संख्या 28 पहुंच गई है।गाजियाबाद में एक और कोरोना संक्रमित की मौत हो गई है। यह व्यक्ति मेरठ मेडिकल कॉलेज में भर्ती था।मंगलवार को उसे वेंटीलेटर पर शिफ्ट किया गया था, लेकिन देर रात इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतक गाजियाबाद के केला भट्टा इलाके का रहने वाला था। 9 मई को उसे मेरठ रेफर किया गया था। मृतक की डेड बॉडी गाजियाबाद पहुंच गई।कोरोना वायरस की मुट्ठी में अब तक राज्य के 74 जिले आ चुके हैं, लेकिन इनमें नौ जिलों पर उसकी गिरफ्त मजबूत हो गई है। इन नौ जिलों में कोरोना के कुल संक्रमितों के 70 फीसद मरीज मिले हैं। इन जिलों में सख्ती के बावजूद मरीज मिल रहे हैं। बाकी 65 जिलों में अब तक 30 प्रतिशत मरीज मिले हैं। फिलहाल अब तक 74 जिलों में कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं। सर्वाधिक 779 मरीज आगरा में पाए जा चुके हैं।उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित अब तक कुल 3728 मरीज पाए जा चुके हैं। इनमें से नौ जिलों में ही 2514 मरीज पाए गए हैं जिसमें आगरा में 779, कानपुर में 302, लखनऊ में 266, मेरठ में 264, नोएडा में 233, सहारनपुर में 204, फीरोजाबाद में 194, गाजियाबाद में 146 और मुरादाबाद में 126 मरीज मिले हैं। ये जिले शुरुआत से ही स्वास्थ्य विभाग के लिए सिरदर्द बने हुए हैं। अब तक करीब 87 लोगों की हुई मौत में से अकेले आगरा में ही 25, मेरठ में 14 और कानपुर में छह लोगों की मौत हुई है। कोरोना का संक्रमण सर्वाधिक इन्हीं जिलों में समस्या का सबब बना हुआ है।लॉकडाउन के साथ-साथ तमाम उपायों के बावजूद इन जिलों में कोरोना के नए मरीज मिल रहे हैं। ऐसे में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम को मेरठ, आगरा, सहारनपुर और लखनऊ में आकर व्यवस्था को दुरुस्त करनी पड़ा।यही नहीं, अब कुछ क्षेत्रों में जरूरत के अनुसार कर्फ्यू भी लगाया जा रहा है। बाकी 65 जिलों में करीब 1100 मरीज मिले हैं जो कि कुल मरीजों का 30 फीसद है। अब सरकार को प्रवासी मजदूरों और बाहर से आ रहे लोगों की स्क्रीनिंग मजबूत करनी होगी ताकि दूसरे जिलों में मरीज न बढ़े। राहत देने वाली यह बात है कि प्रदेश का रिकवरी रेट राष्ट्रीय औसत से काफी अच्छा है। यहां अब तक मिले 3614 मरीजों में से 1759 स्वस्थ हो चुके हैं जो कि करीब 49 फीसद है।

यूपी के सभी 75 जिलों में फैला कोरोना, गिरफ्त में ज्यादा युवा

उत्तर प्रदेश से अन्य समाचार व लेख

» जौनपुर व वाराणसी में में तीन-तीन, गाजीपुर के साथ ही बलिया में एक-एक मरीज पॉजिटिव

» अंबेडकरनगर में भी कोरोना की दस्तक-दो पॉजिटिव, सीतापुर में पांच नए केस

» UP में 75 में से सिर्फ एक जिला COVID-19 फ्री

» UP में आंधी-पानी और वज्रपात ने फिर बरपाया कहर, 22 लोगों की गई जान

» UP में लगातार बढ़ रहा ठीक होने वालों का प्रतिशत, 44.4 फीसद हो चुके स्वस्थ

 

नवीन समाचार व लेख

» प्रशासन की बड़ी लापरवाही ट्रेन में मृत श्रमिक की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने से हड़कंप, पहले ही कर द‍िया पीएम

» यूपी के सभी 75 जिलों में फैला कोरोना, गिरफ्त में ज्यादा युवा

» कानपुर में घर लौटने की जिद कर रही थी पत्नी, पति ने नहीं मानी बात तो घोंप दिया चाकू

» आगरा मेंं कुल कोरोना संक्रमित 785, 25 की मौत, 379 लोग हुए ठीक

» मेरठ में कोरोना की बढ़ी रफ्तार- आठ नए कोरोना संक्रमित मिले, संख्या 270 पहुंची