यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बलिया खाद्यान्न घोटाले में तीन आरोपित गिरफ्तार


🗒 शुक्रवार, जून 10 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
बलिया खाद्यान्न घोटाले में तीन आरोपित गिरफ्तार

वाराणसी : आर्थिक अपराध अनुसंधान संगठन (ईओडब्‍ल्‍यू) ने शुक्रवार को बलिया के चर्चित खाद्यान्न घोटाले में तीन आरोपितों को नदेसर क्षेत्र से गिरफ्तार किया। घोटाले के संबंध में बलिया के रसड़ा थाने में दर्ज गबन, जालसाजी, धोखाधड़ी व साजिश रचने समेत विभिन्न आरोपों में वर्ष 2006 में मुकदमा दर्ज है।इस मामले की विवेचना ईओडब्‍ल्‍यू कर रही है। इस प्रकरण में करीब 38 लाख 73 हजार 940 रुपये का गबन करने का आरोप है। गिरफ्तार आरोपितों में रसड़ा थाना क्षेत्र के बस्तौरा निवासी तत्कालीन ग्राम पंचायत विकास अधिकारी विनोद कुमार तिवारी, रसड़ा के कोटवारी निवासी जय नारायण गुप्ता व रसड़ा के अमरहपट्टी निवासी तत्कालीन कोटेदार रामायण यादव शामिल हैं। आरोपितों को भ्रष्टाचार निवारण कोर्ट में पेश कर अग्रिम कार्यवाही की जा रही है।एसपी ईआडब्लू डी प्रदीप कुमार के मुताबिक संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना का क्रियान्वयन सरकार द्वारा वर्ष 2002 से 2005 के मध्य बलिया में किया गया। इस कार्यक्रम को सही और सुचारू रूप से संचालित करने के लिए जिले के शीर्ष अधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई थी। योजना के तहत जिले के विभिन्न गांवों में मिट्टी, नाली निर्माण, खड़ंजा निर्माण, पटरी मरम्मत, संपर्क मार्ग व पुलिया निर्माण आदि श्रमिकों का चयन कर कराया जाना था।श्रमिकों को श्रम के बदले खाद्यान्न व नकद दिए जाने का निर्देश था। ईओडब्‍ल्‍यू ने घोटाले की विवेचना में पाया कि जिम्मेदार अधिकारियों व कर्मचारियों के द्वारा तत्कालीन ग्राम पंचायत विकास अधिकारी व कोटेदारों की मिलीभगत कर कार्य योजनाओं की पत्रावलियों पर पेमेंट आर्डर, मास्टर रोल व खाद्यान्न वितरण रजिस्टर में कूटरचना कर केंद्र सरकार के निर्देशों की अवहेलना की गई और इस योजना को जबरदस्त चूना लगाया दिया।श्रमिकों का चयन मनमानी तरीके से किया गया और मास्टर रोल में दर्शाए गए श्रमिकों का नाम व पता भी विवेचना में फर्जी पाया गया। गिरफ्तार करने वाली टीम में निरीक्षक कृष्ण मुरारी मिश्र, मुख्य आरक्षी विनोद यादव, आरक्षी रोहित सिंह, राज सिंह शामिल थे।

वाराणसी से अन्य समाचार व लेख

» आपत्तिजनक पोस्टर लगवाने पर दो गिरफ्तार

» वधु पक्ष को ढाई लाख रुपये हर्जाना

» सिविल जज को धमकी भरे पत्र के पहले आई थी इंटरनेट काल

» कश्मीरी शिक्षिका के हत्यारों को सजा देने की मांग

» केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने खत्म की 'चिंतादेवी' की चिंता, पास करवाया डाक विभाग में फंसा एफडी का पैसा

 

नवीन समाचार व लेख

» मुठभेड़ के बाद पशु चोर गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार

» मेहनताना मांगने पर ठेकेदार ने छह बच्चों को बंधक बनाकर पीटा

» एसडीपीआई के जिलाध्यक्ष समेत तीन गिरफ्तार

» देवबंद में पुलिस ने किया लाठीचार्ज, डर से दुकानें की बंद, 36 हिरासत में

» प्रयागराज में पथराव, पुलिस से झड़प व आगजनी, कई जख्मी, अब तक 35 गिरफ्तार