यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

वाराणसी के दशाश्वमेध इलाके में दूसरा मुन्‍ना बजरंगी बनने की चाह रखने वाला कुख्‍यात रोशन किट्टू साथी संग गिरफ़तार


🗒 मंगलवार, मार्च 19 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

दशाश्वमेध इलाके में पिछले साल सितंबर में हुए दोहरे हत्याकांड के बाद से फरार 50 हजार रुपए के इनामी शूटर रोशन गुप्ता उर्फ किट्टू को क्राइम ब्रांच और पुलिस ने मंगलवार भोर में क्रास फायरिंग के दौरान दबोच लिया। उसका एक साथी नारायण यादव भी पकड़ा गया है। अपराधियों के कब्जे से पिस्टल और कारतूस बरामद किए गए हैं। 2016 में कुख्यात सनी सिंह के मुठभेड़ में ढेर होने के बाद किट्टू ने गिरोह की कमान संभाल ली थी।

वाराणसी के दशाश्वमेध इलाके में दूसरा मुन्‍ना बजरंगी बनने की चाह रखने वाला कुख्‍यात रोशन किट्टू साथी संग गिरफ़तार

2 साल जेल में रहकर उसने गैंग को मजबूत करने के साथ ही शहर के कारोबारियों से हर महीने लाखों रूपए रंगदारी वसूली। पूछताछ में किट्टू ने पुलिस से बेखौफ अंदाज में कहा कि उसका इरादा मुन्ना बजरंगी की जगह पूर्वांचल में अपना सिक्का चलाना है। यह शातिर बदमाश मोबाइल फोन नहीं इस्तेमाल करता इसलिए सर्विलांस के जरिए वह पकड़ में नहीं आता। फरारी के दौरान वह असम, बिहार, महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में छिपता फिरा। क्राइम ब्रांच का दावा है कि वह डीरेका के एक बड़े ठेकेदार की हत्या के इरादे से बनारस आया तभी मुखबिर से सूचना मिलने पर उसे घेरकर मुठभेड़ में दबोच लिया गया।

वाराणसी से अन्य समाचार व लेख

» वाराणसी के बड़ागांव में रिटायर्ड पोस्टमैन की धारदार हथियार से हत्‍या

» वाराणसी के बीएचयू में हादसे के बाद कई तिराहाें पर तीन व चार चक्का वाहनों पर लगी रोक

» बनारस में अरुणाचल प्रदेश के लिए बनी शराब बरामद, 50 लाख की शराब संग दो गिरफ्तार

» बीएचयू के विधि संकाय के तिराहे पर कार ने बाइक सवार युवक व युवती को मारी टक्‍कर, हालत गंभीर

» जिला वाराणसी के एक कोचिंग सेंटर में शार्ट सर्किट से लगी आग, क्षेत्र में मची अफरा तफरी

 

नवीन समाचार व लेख

» बरेली में बच्ची के इलाज में लापरवाही पर सीएम का आदेश, बरेली जिला अस्पताल के सीएमएस सस्पेंड

» अलीगढ मे पंचायत ने दुष्कर्म पीड़िता की अस्मत की कीमत लगाई 51 हजार, परिवार ने आरोपी पर किया केस

» उत्तरप्रदेश की पांच जेलों में ही रखे जाएंगे दुर्दांत अपराधी, तिहाड़ की तर्ज पर होगा सुरक्षा घेरा

» लोकलुभावन ताकतों के खिलाफ खड़ी हो न्यायपालिका : सीजेआइ

» उप्र बार कौंसिल अध्यक्ष दरवेश सिंह के हत्यारोपित मनीष शर्मा की हालत गंभीर सात दिन बाद भी नहीं आया होश