यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

वाराणसी में 24 लाख 64 हजार पौधारोपण का योगदान होगा


🗒 बुधवार, जुलाई 17 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
सलाउद्दीन अली एसोसिएट एडिटर : वाराणसी
जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह ने कमिश्नरी ऑडिटोरियम में पंचायत सेक्रेट्री, ग्राम विकास अधिकारी, ए0डी0ओ0 के साथ बैठक कर गांव में हो रहे विकास कार्यों की समीक्षा की।
जल संरक्षण पर जोर देते हुए जिलाधिकारी ने हर गांव में एक-एक नया तालाब निर्माण कराने के निर्देश दिए। पुराने तालाबों में पानी का इनलेट बनवाएं। निष्प्रयोज्य कुओं, खराब हैंडपंपों व ट्यूबवेल को छतो के वर्षा जल से जोड़कर रिचार्ज में उपयोग में लाएं। भूगर्भ रिचार्ज वर्षा जल से सीधे जोड़े। रिचार्ज में नाली का गंदा पानी नहीं डालें। शौचालय निर्माण के लिए लाभार्थी के खाते में सीधे पैसा भेजे और उससे शौचालय बनवाएं। हर ग्राम पंचायत में पंचवटी विकसित की जाए। गांव में गंदगी फैलाने वालों को नोटिस देकर जुर्माना लगाएं। ब्लॉकों के नोडल अधिकारी गांव में भेजी गई समस्त प्रकार की धनराशि से होने वाले कार्यों का निरीक्षण करें। कार्यों में गुणवत्ता सुनिश्चित की जाए। खड़ंजा, सीसी रोड के साथ नाली निर्माण अवश्य करवाएं। जो स्वच्छताग्रही काम नहीं कर रही हैं, उन्हें हटा दिया जाए तथा नए लिए जाए। कार्य करने वाले स्वच्छताग्रही का पारिश्रमिक समय से भुगतान हो।
सबसे अच्छी पंचवटी बनाने वाले, गांव में सबसे अधिक वृक्षारोपण करने वाले, वृक्षों का 3 वर्ष तक संरक्षण करने वाले, सबसे अच्छा स्वास्थ्य उपकेंद्र बनाने वाले, पंचायत सेक्रेटरी को पुरस्कृत किया जाएगा। कायाकल्प में पंचायतों द्वारा अच्छा कार्य करने की जिलाधिकारी ने प्रशंसा की। संपूर्ण स्वच्छता में शौचालयों के निर्माण से मच्छरों औऱ मक्खियों की संख्या कम हुई। इससे संचारी रोग पर रोकथाम हुई है। अब ओडीएफ प्लस से स्वच्छता को बढ़ाना है। हर गांव में नर्सरी की स्थापना करें। निराश्रित गोवंश हेतु हर गांव में ग्राम समाज की जमीन चिन्हित कर हरा चारा उगाए। पशुओं के चारे की अच्छी व्यवस्था रखी जाए।इसमें एक दिनी 22 करोड़ वृक्षारोपण के महाकुंभ में वाराणसी जनपद 24 लाख 64 हजार वृक्षारोपण की सहभागिता करेगा। इसके लिए वन विभाग व विभिन्न विभागों द्वारा मृदा कार्य तेजी से कराया जा रहा है। ग्राम सभा की बैठक में गांव के विकास कार्यों की कार्ययोजना बना ले। जिसमें प्राथमिकता भी रखी जाए। ताकि चरणबद्ध मिलने वाली धनराशि का सदुपयोग होता रहे। ग्रामों के कार्यों के व्यय का चार्टर्ड अकाउंटेंट से ऑडिट कराया जाएगा। इसलिए सभी सेक्रेट्री आवश्यक प्रक्रिया व अभिलेख रखें।इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी गौरांग राठी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

वाराणसी में 24 लाख 64 हजार पौधारोपण का योगदान होगा

वाराणसी से अन्य समाचार व लेख

» वाराणसी नगर निगम और एनटीपीसी के बीच समझौता, लगेगा कचरे से बिजली बनाने का प्लांट

» पिसौर पुल के पास बदमाश और पुलिस के बीच मुठभेड़, क्राइम ब्रांच का सिपाही घायल

» जंसा थाना के सोनबरसा गांव में प्रेमिका से मिलने पहुंचे प्रेमी को ग्रामीणों ने पीटकर पुलिस को सौंपा, भेजा जेल

» जिला वाराणसी में युवक ने आनलाइन मंगाया कीमती मोबाइल, पैकेट में भेज दिया पत्थर

» वाराणसी में BJP नेता कलराज मिश्रा के दामाद ने दी पुलिस को धमकी 'वर्दी उतरवा दूंगा