यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बनारस में विधायक सुशील सिंह की हत्या करने आया शूटर चढ़ा एसटीएफ के हत्थे, कर रहा था रेकी


🗒 शुक्रवार, अगस्त 09 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

पूर्वांचल व बिहार में हत्याओं व जानलेवा हमले समेत कई संगीन मामलों में वांछित शिव प्रकाश तिवारी उर्फ धोनी तिवारी के साथ उसके तीन शूटरों मनीष केसरवानी व अंजनी सिंह को स्पेशल टास्क फोर्स ने बनारस के टकटकपुर गैस गोदाम के पास मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया। धोनी तिवारी पर एक लाख का रुपये का ईनाम घोषित है। इन अपराधियों के पास पुलिस ने एक देशी पिस्टल, तीन जिंदा कारतूस, दो खोखा कारतूस, दो तमंचे, दो जिंदा कारतूस, दो खोखा कारतूस व तीन मोबाइल बरामद किए गए हैं।पूछताछ में बताया जा रहा है कि बस्ती जिला के थाना नगर कोतवाली के पाल्हा गांव निवासी धोनी तिवारी चंदौली के सैयदराजा से भाजपा विधायक सुशील सिंह की हत्या की फिराक में कई दिनों से बनारस में रह रहा था। उसके यहां रहने का इंतजाम अमरनाथ उर्फ पप्पू चौबे द्वारा किया जा रहा था। एसटीएफ को मुखबिर से तिवारी के टकटकपुर गैस गोदाम के पास किसी वारदात को अंजाम देने के फेर में होने की सूचना मिली। सूचना पुख्ता होने पर एसटीएफ वाराणसी के निरीक्षक शैलेश प्रताप सिंह, विपिन कुमार राय, अमित श्रीवास्तव और पुनीत परिहार शामिल थे।तिवारी ने बताया कि प्रयागराज के अपराधी छात्र स्व. सुमित शुक्ला जिसकी हत्या हो चुकी है, शुक्ला की मदद से इसका संबंध अमरनाथ चौबे उर्फ कुक्कू निवासी चौबेपुर से हुआ था। चौबे की मदद से बिहार में अपराध करने के बाद इसे बनारस में छिपने की जगह मिलती थी। चौबे के ही कहने पर तिवारी को चंदौली के भाजपा विधायक सुशील सिंह की हत्या करने आया था। फिलहाल वो अपने साथियों की मदद से रेकी में जुटा था। बदमाशों को गिरफ्तार करने वाली टीम का नेतृत्व एसपी एसटीएफ वाराणसी अमित कुमार कर रहे थे।

बनारस में विधायक सुशील सिंह की हत्या करने आया शूटर चढ़ा एसटीएफ के हत्थे, कर रहा था रेकी

वाराणसी से अन्य समाचार व लेख

» सफाई कर्मी के सडक दुर्घटना मे मृत्यू हो जाने पर सफाई कर्मी संघ ने शोकसभा कर दी श्रृद्दांजली

» वाराणसी के पांडेपुर स्थित जलकल विभाग द्वारा देखने को मिला घोर लापरवाही

» पति- पत्नी लगाये फांसी, दो बच्चों को खिलाया विषाक्त पदार्थ मौत

» ‘‘पढ़े बनारस,बढ़े बनारस‘‘ कार्यक्रम सम्पन्न

» पत्रकार सहित सरकारी अधिकारियों ने भी मित्र की शादी में लगाए ठुमके