वाराणसी में गैलेक्सी हॉस्पिटल में शॉर्ट सर्किट से लगी आग

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

वाराणसी में गैलेक्सी हॉस्पिटल में शॉर्ट सर्किट से लगी आग


🗒 बुधवार, मार्च 10 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
वाराणसी में गैलेक्सी हॉस्पिटल में शॉर्ट सर्किट से लगी आग

वाराणसी, । सिगरा थाना क्षेत्र के महमूरगंज स्थित एक नामचीन हॉस्पिटल में बुधवार की सुबह तीसरे फ्लोर पर आग लग गयी। संभावना व्यक्त की जा रही है कि आग ऑपरेशन थियेटर के समीप रखे इलेक्ट्रॉनिक पैनल में शार्ट सर्किट की वजह से लगी। हॉस्पिटल में रात तक सब कुछ सामान्य था तभी ऑपरेशन थियेटर से धुआं निकलता देख हॉस्पिटल स्टाफ में भगदड़ मच गई। फायर ब्रिगेड को सूचना देने के बाद धुंआ बाहर निकालने के लिए लोग खिड़कियों का शीशा तोड़ने लगे और अंदर लगे फायर इक्विपमेंट से आग बुझाने की कोशिश में लग गए। सूचना पाकर मंडुवाडीह थाना प्रभारी व सिगरा थाना प्रभारी भी मौके पर पहुंच गए। दमकल की कई गाड़ियों से सीढ़ी लगाकर तीसरे फ्लोर का शीशा तोड़ कर आग पर काबू पाया गया। वहींं इस रेस्क्यू ऑपरेशन में सिगरा थाने का एक सिपाही भी झुलस गया।महमूरगंज स्थित गैलेक्सी हॉस्पिटल के तीसरे फ्लोर पर आग की सूचना मिलने के बाद अस्पताल प्रबंधन ने सबसे पहले अस्पताल में लगाए गए फायर फाइटिंग इक्विपमेंट की मदद से इस आग पर काबू पाने की कवायद शुरू की। इलेक्ट्रॉनिक पैनल से आग बढ़ते- बढ़ते ऑपरेशन थिएटर तक पहुंच गई। इसके बाद बगल में स्थित आइसीयू आग की चपेट में आने लगा। आइसीयू में 10 मरीजों में से 6 मरीज वेंटिलेटर पर थे जबकि बाकी की कंडीशन भी क्रिटिकल बताई जा रही थी। शीशा तोड़कर रेस्क्यू की कोशिश हो रही थी, इस दौरान आग बढ़ने लगी और ऊपर के फ्लोर पर धुआं बढ़ता देख मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने आग पर काबू पाने की कवायद शुरू की। इसके बाद आग तो बुझने लगी लेकिन धुआं बढ़ने लगा। जिसको खत्म करने के लिए अस्पताल के बाहर लगे शीशे को तोड़कर राहत देने की कोशिश शुरू हुई। जब धुआं कम होने लगा तो आईसीयू में लगभग 10 मरीज  मौजूद थे उन  मरीजों को दूसरे कमरे में शिफ्ट करने की कवायद शुरू हुई, जो आग की वजह से यहां फंस गए थे।चीफ फायर ऑफिसर अनिमेष सिंह ने बताया कि आग को पूरी तरह से काबू में करने के लिए लगभग एक घंटे से ज्यादा वक्त लगा। दो से ज्यादा फायर गाड़ियों की मदद से आग पर पूरी तरह से काबू पाया गया है। सभी पूरी तरह से सुरक्षित हैं। फिलहाल अस्पताल का फायर फाइटिंग इक्विपमेंट बेहतर तरीके से काम कर रहा है, लेकिन आग लगने के कारण वे अन्य जांच की जाएगी कि कोई कमी तो नहीं थी। वहीं आग लगने की सूचना के बाद आईसीयू में भर्ती मरीजों के तीमारदार अस्पताल के बाहर काफी परेशान रहे। अस्‍पताल प्रबंधन के अनुसार ऑपरेशन थियेटर की मशीनों को क्षति पहुंची है, नुकसान का आकलन किया जा रहा है।

वाराणसी से अन्य समाचार व लेख

» नव निर्वाचित ग्राम प्रधान की हुई मौत परिजनों में मचा कोहराम

» वाराणसी में रंगरेलियां मनाते मिले तीन दोस्‍त

» CM योगी ने बीएचयू में अस्थायी कोविड हास्पिटल का किया निरीक्षण

» वारणसी में 20 हजार रुपये में रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचने की थी तैयारी, हत्थे चढ़े छात्र समेत दो

» बीएचयू अस्‍पताल में ट्रामा सेंटर के प्रोफेसर इंचार्ज डा. संजीव गुप्ता ने दिया इस्तीफा

 

नवीन समाचार व लेख

» बिजनौर मे पैसों को लेकर कहासुनी, दावत के दौरान युवक की पीट-पीटकर हत्या

» लखनऊ में किशोरी से सरेआम छेड़छाड़ के बाद दो पक्षों में संघर्ष, जमकर हुआ पथराव; दारोगा चोटिल

» लोगों को मास्क पहनने के लिए करना होगा मजबूर - सीएम योगी

» गांवों में कोरोना रोकने के लिए सरकार की नई गाइडलाइंस जारी

» बहराइच में गर्भवती पर बनाया देह व्यापार का दबाव, इन्कार पर लाठी डंडों से पीटा; नवजात की मौत