यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बीएचयू के सात छात्रों ने चाकू से फल विक्रेता को मार डाला


🗒 मंगलवार, अप्रैल 06 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
बीएचयू के सात छात्रों ने चाकू से फल विक्रेता को मार डाला

वाराणसी,। फल खरीदने के दौरान पैसे के लेन-देन को लेकर शुरू हुए विवाद में सोमवार की देर शाम लंका थाने से कुछ कदम दूर रविदास गेट के पास फल विक्रेता नगवां निवासी काशीनाथ उर्फ सोनू मौर्या को चाकुओं से गोदकर हत्‍या कर दी गई थी। इस हमले में सोनू का भाई विश्वनाथ उर्फ मोनू मौर्य भी गंभीर रूप से घायल हो गया था। घटना के बाद आसपास के फल बेचने वाले दुकानदारों ने दो हमलावरों की पिटाई के बाद पुलिस को सौंप दिया। घायल वहीं मोनू का ट्रामा सेंटर में उपचार चल रहा है। सोनू को सीने में बाएं और मोनू को दाहिने तरफ चाकू का गंभीर जख्‍म लगा था। इंस्पेक्टर लंका महेश पांडेय के अनुसार दो आरोपितों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। पूछताछ में पता चला है कि दोनों बीएचयू के छात्र हैं। उधर, घटना से आक्रोशित दुकानदारों ने लंका थाने में हंगामा शुरू कर दिया और रात में आरोपितों को उनके हवाले करने की मांग करने लगे।स्‍थानीय लोगों के अनुसार बीएचयू के छात्रों से कुछ दिन पहले पैसे को लेकर विवाद हुआ था। इसके बाद शाम करीब साढ़े सात बजे आधा दर्जन से अधिक हमलावरों ने पहले मारपीट की फिर ठेले पर रखा चाकू उठाकर ताबड़तोड़ वार करके दोनों को घायल कर दिया। आनन फानन घायल भाइयों को बीएचयू ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया, जहां अत्यधिक रक्तस्नाव होने के कारण सोनू की मौत हो गई। पुलिस के अनुसार सीसीटीवी फुटेज में सात आरोपितों की शिनाख्‍त हो चुकी है जबकि तीन आरोपित पुलिस हिरासत में हैं। सोमवार को फल कारोबारी की छात्रों द्वारा हत्या के विरोध में लंका क्षेत्र की दुकानें मंगलवार की सुबह बंद कर दी गईं। लंका थाना क्षेत्र में फल विक्रेता सोनू की हत्या के बाद थाना घेराव कर रहे क्षेत्रीय लोगों को इस दौरान समझाने विधायक सौरभ श्रीवास्तव और एसपी सिटी भी पहुंचे। इस दौरान आरोपितों पर कार्रवाई को लेकर कारोबारी काफी आक्रोशित रहे। सोनू की हत्या के विरोध में दुकान बंद करने वाले दुकानदारों का आरोप है कि आये दिन छात्र सामान लेने के बाद पैसा मांगने के बाद मारपीट करने लगते हैं। लंका के दुकान संचालक पप्पू यादव, राजेश केसरी, विजय सोनकर, राजू बरनवाल ने बताया कि छात्रों की अराजकता के कारण अब दुकानदार दहशत में रहते हैं। सोनू के परिजनों से मिलने के लिए पूर्व मंत्री सुरेंद्र सिंह पटेल, विधायक महेंद्र पटेल, पूर्व मंत्री रीबू श्रीवास्तव, अजय राय पूर्व सांसद राजेश मिश्रा, राघवेंद्र चौबे, राजेश्वर पटेल, कमल पटेल, सोनू सोनकर सहित अन्य लोग पहुंचे थे।यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है, जहां एक मासूम की जान चली गई । सीसीटीवी फुटेज के आधार पर 7 अपराधियों की पहचान कर ली गई है, इनमें ज्यादातर छात्र हैं। तीन को फौरन गिरफ्तार कर लिया गया है। किसी को बख्शा नहीं जाएगा। हम दोषी को न्याय दिलाएंगे।- ए. सतीश गणेश, पुलिस कमिश्‍नर।

वाराणसी से अन्य समाचार व लेख

» रेलवे टिकट की कालाबाजारी का भंडाफोड़, पर्सनल आईडी से बने ई- टिकट के साथ वाराणसी में हत्थे चढ़ा दलाल

» वाराणसी एयरपोर्ट पर पकड़ा गया 33 लाख का सोना

» बीएचयू पुलिस चौकी के पास छीनी छात्रा के गले से चेन

»  बीएचयू अस्‍पताल में गलत प्लाज्मा चढ़ाने से मरीज की मौत

» वाराणसी के रामनगर इण्डस्ट्रियल एसोसिएशन के अध्यक्ष समेत दो संग उचक्कागीरी

 

नवीन समाचार व लेख

» इलाहाबाद हाई कोर्ट की अपील- कोविड-19 गाइडलाइन का पालन करें लोग, कहा- नाइट कर्फ्यू पर विचार करे सरकार

» औरैया में अवैध असलहा फैक्ट्री का पर्दाफाश,तीन गिरफ्तार

» भाजपा सांसद संगम लाल गुप्ता के भाई को गोली मारने की धमकी

» प्रयागराज में बोलेरो को ट्रक ने मारी टक्कर,जिला पंचायत चुनाव के भाजपा प्रत्याशी समेत चार लोग हुए जख्मी

» मुठभेड़ में घायल शराब माफिया के तीन और साथी प्रयागराज में गिरफ्तार