वाराणसी में भड़का लाभार्थी तो मंत्री रविंद्र जायसवाल से हुई कहासुनी

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

वाराणसी में भड़का लाभार्थी तो मंत्री रविंद्र जायसवाल से हुई कहासुनी


🗒 शनिवार, मई 01 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
वाराणसी में भड़का लाभार्थी तो मंत्री रविंद्र जायसवाल से हुई कहासुनी

वाराणसी, । शिवपुर स्वास्थ्य केंद्र पर शनिवार को पहले दिन ही दुर्व्यवस्था सामने आई। इसको लेकर टीकाकरण के दौरान युवाओं का गुस्सा देखने को मिला। एक युवक जब  दुर्व्यवस्था को लेकर भड़क गया तो  टीकाकरण अभियान का उद्घाटन करने पहुंचे मंत्री रविंद्र जायसवाल से उसकी कहासुनी हुई। मंत्री ने युवक से कहा कि स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी कोरोना संक्रमण काल में लोगों की सेवा में कोई कसर नहीं छोड़ रहे। थोड़ी बहुत जो कमियां है उसे दूर कर ली जाएंगी  इसके बाद भी युवक की नाराजगी थमी नहीं। जिसको लेकर मंत्री के समर्थकों ने भी युवक का विरोध किया और उसे कुछ दूर तक दौड़ा लिया।इस दौरान मंत्री भी साथ में थे। बाद में मंत्री ने युवक के आरोपों को गंभीरता से लेते हुए बिना तामझाम के स्वास्थ्य केंद्र परिसर में भ्रमण किया। आम आदमी की तरह टीकाकेंद्र के काउंटर पर पहुंचकर कुछ जानकारियां मांगी। मौके पर कंप्यूटर की व्यवस्था नहीं होने की बात सामने आई। इसको लेकर वहां मौजूद सिस्टर से मंत्री ने पूछा तो सिस्टर ने एक बारगी बताने से इनकार कर दिया। कहा कि आप कौन होते हैं पूछने वाले। हालांकि, बाद में पहुंचे चिकित्सक ने मंत्री को पहचा लिया और स्वास्थ्य केंद्र में फैली दुर्व्यवस्था को खोल कर रख दिया।  कहा कि कंप्यूटर का इंतजाम नहीं होने से भेजी गई सूची के हिसाब से मैनुअल मिलान की जा रहा है। इसमें थोड़ा वक्त लग रहा है। देर होने से लोगों की नाराजगी देखने को मिलेगी ही। इसके लिए स्वास्थ्य कर्मी तैयार हैं। स्टाफ भी कम है। करीब 50 फीसद कर्मी बीमार हैं।यह सुनकर मंत्री ने तत्काल सीएमओ डॉ वीबी सिंह व जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा से वार्ता की। शिवपुर स्वास्थ्य केंद्र पर कंप्यूटर का इंतजाम करने के लिए कहा। परिसर में लाइन लगाकर खड़े युवा लाभार्थियों को छांव के लिए टेंट लगाने का निर्देशित दिया। साथ ही सुझाव दिया कि एक स्वास्थ्य केंद्र पर जब 500 लोगों का टीकाकरण करना है तो 100-100 लाभार्थियों का स्लॉट बनाकर टीकाकरण करें। इससे फायदा यह होगा कि अपने स्लॉट के निर्धारित वक्त पर लाभार्थी स्वास्थ्य केंद्र पर आएगा। इससे भीड़ नहीं लगेगी जिससे व्यवस्था नहीं बिगड़ेगी।

वाराणसी से अन्य समाचार व लेख

» आजमगढ़ में आकाशीय बिजली से दो की मौत, वाराणसी में मस्जिद की दीवार गिरने से एक जख्‍मी

» वाराणसी में मामी के आठ लाख के गहने लेकर भांजा फरार

» वाराणसी के अंधरापुल फूट वियर के गोदाम में लगी भीषण आग

» वाराणसी में प्रेमी संग मिलकर पत्नी ने कराई पति की हत्या

» लालच में हुई थी वाराणसी के पीएनबी के प्रबंधक की हत्या, छह गिरफ्तार