यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

वारणसी में 20 हजार रुपये में रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचने की थी तैयारी, हत्थे चढ़े छात्र समेत दो


🗒 शनिवार, मई 08 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
वारणसी में 20 हजार रुपये में रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचने की थी तैयारी, हत्थे चढ़े छात्र समेत दो

वाराणसी,। सिगरा थानांतर्गत चंद्रिका नगर क्षेत्र में जीवनरक्षक दवा की कालाबाजारी का खेल उजागर हुआ। कोरोना संक्रमित व्यक्ति की जान बचाने के लिए जरूरी रेमडेसिविर इंजेक्शन के साथ एक छात्र समेत दो लोगों को इलाकाई पुलिस ने गिरफ्तार कर शनिवार को जेल भेज दिया। 20 हजार रुपए के दर पर एक इंजेक्शन बेचने की तैयारी थी।मिली जानकारी के अनुसार चंद्रिका नगर कॉलोनी निवासी सर्वेश अग्रवाल अपने कर्मचारी बलुआ (चंदौली) के प्रमोद पांडेय के साथ बीती रात 9.15 बजे जीवनरक्षक इंजेक्शन बेचने की फिराक में था। इस दौरान क्राइम ब्रांच को मिली सूचना के बाद सिगरा पुलिस के सहयोग से दोनों को चंद्रिका नगर तिराहे से दबोच लिया गया। तलाशी में रेमडेसिविर के तीन इंजेक्शन, दो मोबाइल फोन और 14 हजार 530 रुपये नगद भी बरामद हुआ।पूछताछ में सर्वेश ने बताया कि वह प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करता है। घर में बीमार पड़े दादा के लिए उसने तीनो इंजेक्शन मार्केट से खरीदा था। अनुपयोगी होने पर सर्वेश ने उसे किसी जरूरतमंद को बेचने की योजना बनाई। काफी दिनों से सौदा तय किया जा रहा था। इसकी भनक क्राइम ब्रांच को लग गई। योजना के तहत क्राइम ब्रांच ने सर्वेश से ग्राहक बनकर सम्पर्क किया। इसके बाद चंद्रिका नगर क्षेत्र में दोनों को पकड़ लिया गया।प्रभारी निरीक्षक अनूप कुमार शुक्ला ने बताया कि जीवनरक्षक इंजेक्शन कहा से लिया गया है, इसकी पड़ताल की जा रही है। सर्वेश के मोबाइल फोन रिकॉर्ड से पता लगाया जा रहा है। बताया कि विभिन्न धाराओं के तहत चालान कर दोनों को जेल भेज दिया गया है।

वाराणसी से अन्य समाचार व लेख

» वाराणसी में मामी के आठ लाख के गहने लेकर भांजा फरार

» वाराणसी के अंधरापुल फूट वियर के गोदाम में लगी भीषण आग

» वाराणसी में प्रेमी संग मिलकर पत्नी ने कराई पति की हत्या

» लालच में हुई थी वाराणसी के पीएनबी के प्रबंधक की हत्या, छह गिरफ्तार

» वाराणसी में एटीएम में रुपये डालने वालों ने हड़प लिए छह लाख