यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

वाराणसी में दारोगा की बहू ने पुलिस लाइन में किया आत्मदाह


🗒 शनिवार, अक्टूबर 09 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
वाराणसी में दारोगा की बहू ने पुलिस लाइन में किया आत्मदाह

वाराणसी। पुलिस लाइन स्थित सरकारी आवास में दारोगा की बहू साधना ने खाना बनाने को लेकर सास से विवाद होने पर शनिवार को केरोसिन उड़ेल कर आत्मदाह कर लिया। परिवारीजन जब तक दरवाजा तोड़कर बाहर निकालते, उसकी मौत हो गई। युवती का पति जितेंद्र सिक्योरिटी गार्ड है। सूचना के बाद पहुंचे एसीपी कैंट रत्नेश्वर सिंह व पुलिस पहुंची। फोरेंसिक टीम ने मौके से साक्ष्य लिए।भदोही के ज्ञानपुर थाने में तैनात उपनिरीक्षक चंद्रदेव राम की पत्नी फूलकुमारी दो बेटों जितेंद्र व धर्मेंद्र व बहू के साथ आवासीय कालोनी में रहती है। जितेंद्र की शादी मई 2017 में मऊ के कोपागंज थानांतर्गत ग्राम पूरन कोपा की साधना से हुई थी। चंद्रदेव राम सारनाथ में मकान बनवा रहे हैं। पुलिस की पूछताछ में परिवारीजन ने बताया कि सुबह मकान पर जाने के लिए सास ने बहु से जल्दी खाना बनाने को कहा। इसी को लेकर दोनों में कुछ अनबन हो गई। इसके बाद साधना ने खुद को एक कमरे में बंद कर लिया। थोड़ी देर बाद चीखने चिल्लाने की आवाज सुनाई दी और कमरे से धुआं निकलता देख पति जितेंद्र धक्का देकर दरवाजे को तोड़ा। आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन तब तक साधना पूरी तरह से जल चुकी थी। साथ ही कमरे का अन्य सामान भी जल गए। एसीपी कैंट ने बताया कि विवाहिता के मायके वालों को सूचना दे दी गई है। उनके पहुंचने पर आगे की कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया कि मूल रूप से बलिया के नरही थाना क्षेत्र के चौरा गांव के निवासी चंद्रदेव राम भदोही के ज्ञानपुर थाने पर सब इंस्पेक्टर की पोस्ट पर तैनात हैं।

वाराणसी से अन्य समाचार व लेख

» प्रदेश में मंडी शुल्क पुनः लागू किए जाने पर व्यापारियों में जबरदस्त रोष

» उनके शब्दकोष में माफियावाद व परिवारवाद, हमारे में सबका साथ सबका विकास - पीएम

» वाराणसी में शार्ट सर्किट से लगी भीषण आग

» वाराणसी प्रथम आगमन पर प्रदेश अध्यक्ष का हुआ भव्य स्वागत

» महामना के मानस पुत्री व पुत्रों ने जरुरतमंद छात्र हिमांशु के लिए 40,000₹ दे कर की मदद